जयललिता के पार्थिव शरीर को जलाया नहीं दफनाया जाएगा


चेन्नई (6 दिसंबर): जयललिता आज पंचतत्व में विलिन हो जाएंगी, लेकिन उनके पार्थिव शरीर को जलाया नहीं जाएगा बल्कि दफनाया जाएगा। जयललिता को आज 4.30 बजे के बाद दफनाया जाएगा। जयललिता के मेंडर और AIADMK के संस्थापक MGR को भी दफनाया गया था।

सोमवार रात करीब 11:30 बजे जयललिता ने तमिलनाडु की सीएम जयललिता ने चेन्नई के अपोलो हॉस्पिटल में आखिरी सांस ली। जयललिता लंबे समय से बिमार थी और उनका चेन्नई के अपोलो हॉस्पिटल इलाज चल रहा था। जयललिता के अंतिम दर्शन के लिए उनके पार्थिव शरीर को राजाजी हॉल में रखा गया है। जहां सुबह से ही लोगों का तांता लगा हुआ है। लोग अपने प्रिय नेता के अंतिम दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी समेत भारी तादाद में लोग चेन्नई जाकर जयललिता का अंतिम दर्शन कर उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं।