मथुरा जवाहर बाग हिंसा: मास्टरमाइंड रामवृक्ष यादव के फाइनेंसर को जेल भेजा गया

नई दिल्ली (19 जून): जवाहर बाग हिंसा के मास्टरमाइंड रामवृक्ष यादव के फाइनेंसर को जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने पांच घंटे तक उससे कड़ी पूछताछ की। उसने रामवृक्ष के नेटवर्क से जुड़ी तमाम बातें पुलिस को बताईं।

रिपोर्ट के मुताबिक, मथुरा पुलिस शनिवार को ट्रांजिट रिमांड पर राकेश गुप्ता को ले आई। पुलिस लाइन में उससे एसएसपी बबलू कुमार और एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी ने पूछताछ की। बाद में जिला अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराने के बाद उसे अदालत में पेश किया गया। कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में उसे जेल भेज दिया।

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि राकेश गुप्ता जवाहर बाग हिंसा के बाद पुलिस लाइन के निकट बने रास्ते से अपनी पत्नी दो बेटे और छोटी बेटी के साथ भाग निकला था। बाग से वह पैदल छावनी रेलवे स्टेशन गया और वहां से कासगंज होते हुए ससुराल बरेली पहुंचा। ससुरालीजनों से पैसे लेकर वह फर्रुखाबाद के खटिया नामक स्थान पर पहुंचा। यहां एक साधु के पास रुका।

एसएसपी ने बताया कि राकेश गुप्ता का खास रिश्तेदार बदायूं में अधिवक्ता है। उसकी सलाह के आधार पर वह अपने बचाव के लिए होमवर्क करता रहा था। उसने अब तक अखबारों में प्रकाशित और टीवी चैनलों पर प्रसारित खबरों के आधार पर तैयारी कर रखी थी।