जाटों की चेतावनी फिर से होगा आंदोलन

नई दिल्ली (4 अगस्त): जाट नेताओं ने हरियाणा सरकार को अल्टीमेटम दिया है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो फिर से आंदोलन करेंगे। अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने प्रदेश सरकार को 27 अगस्त तक का अल्टीमेटम दिया है।

जाटों ने चेसावनी दी है कि इस दौरान यदि जाट समाज की मांगें नहीं मानी गईं तो 13 सितंबर को हिसार के मय्यड़ में होने वाली रैली में आगामी आंदोलन की घोषणा कर दी जाएगी। इसकी रणनीति रोहतक में होने वाली भाईचारा रैली में बनाई जाएगी। समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक नेयह घोषणा की। मलिक  जाट भवन में हुई समिति की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में शामिल हुए थे। मलिक ने मीडिया से इस संबंध में कहा कि 27 अगस्त को रोहतक में पानीपत बाईपास रोड पर भाईचारा रैली होगी। जिसमें अगली रणनीति की घोषणा होगी।