गृह मंत्रालय का राज्यों को निर्देश, जाटों को दिल्ली पहुंचने से रोको

नई दिल्ली ( 19 मार्च ): केंद्र सरकार जाटों द्वारा दी गई आंदोलन की चेतावनी को देखते हुए दिल्ली और पड़ोसी राज्यों के पुलिसबल से आंदोलनकारियों को राजधानी दिल्ली पहुंचने से रोकने को कहा है। गृह मंत्रालय ने एक अडवाइजरी जारी कर कहा है कि जाट आंदोलनकारियों को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस के अलावा हरियाणा, यूपी और राजस्थान से धारा 144 लगाने को कहा है।


आंदोलन कर रहे जाटों ने नौकरी और पढ़ाई में आरक्षण की मांग को लेकर दिल्ली में प्रदर्शन की धमकी दी है। अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति (एआईजेएएसएस) ने 20 मार्च को संसद को घेरने की धमकी दी है। अडवाइजरी में आंदोलनकारियों को दिल्ली पहुंचने से पहले ही पकड़ने, हाइवे पर प्रदर्शनकारियों को ले जा रही गाड़ियों का मूवमेंट रोकने का भी निर्देश दिया गया है।


उधर, हरियाणा के संवेदनशील जिलों में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा आदेश लागू कर दी गई है। इंटरनेट सेवा भी निलंबित कर दी गई है।