WATCH : जाट आंदोलन में फायरिंग, प्रदर्शनकारी की मौत, कई घायल

चंडीगढ़(19 फरवरी): हरियाणा के रोहतक में जाट प्रदर्शनकारी की मौत हो गई है। पुलिस की फायरिंग में कई लोग घायल हो गए हैं। जाटों ने कैं.अभिमन्यु के घर को जलाने की कोशिश की। 

इससे पहले सरकार ने गुरुवार रात से पूरे राज्य में इंटरनेट सर्विस ब्लॉक कर दी है। आंदोलन का असर झज्जर और सोनीपत जिलों में भी देखने को मिल रहा है। हालात से निपटने के लिए हरियाणा सरकार ने एडीशनल पुलिस फोर्स तैनात की है। हालांकि जाटों का कहना है कि वे अपनी मांगों से पीछे नहीं हटेंगे। सीएम मनोहर लाल खट्टर शुक्रवार को इस मुद्दे पर ऑल पार्टी मीटिंग कर सकते हैं। रोहतक में मोबाइल सर्विस भी सही काम नहीं कर रही है। वहीं 21 फरवरी तक स्कूल और कॉलेज बंद कर रहेंगे।

आरक्षण की मांग को लेकर पांच दिन से जाट समुदाय पूरे प्रदेश में शांतिपूर्ण तरीके से चक्काजाम कर रहा था, लेकिन गुरुवार को इस मसले ने हिंसक रूप ले लिया। क्या है मांग?

- जाट नेता अपनी कम्युनिटी के लिए ओबीसी कैटेगरी में आरक्षण चाहते हैं। - लेकिन हरियाणा सरकार इस पर राजी नहीं है। - गुरुवार को जाट नेताओं की सीएम खट्टर के साथ 4 घंटे बैठक चली। इसके बाद उन्होंने ईकोनॉमिकली बैकवर्ड क्लासेस का कोटा 10 से 20 पर्सेंट बढ़ाने का एलान किया ताकि जाट समुदाय को उसमें शामिल किया जा सके। - जाट नेताओं ने यह ऑफर ठुकरा दिया। इसके बाद तनाव बढ़ने लगा।

देखिए न्यूज़24 की रिपोर्ट...

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=gKBVz7-h-9c[/embed]