घाटी में पत्थरबाजों पर लगाम लगाएंगी महिला ब्रिगेड


नई दिल्ली (28 अप्रैल): घाटी में हो रही लगातार पत्थरबाजी से निपटने के लिए मोदी सरकार ने महबूबा सरकार के साथ मिलकर एक नई योजना बनाई है। इसके लिए केंद्र सरकार ने बड़े पैमाने पर महिला बटैलियन बनाने को मंजूरी दे दी है।


सरकार ने घाटी की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाई बैठक में इंडियन रिजर्व बटैलियंस (IRBs) के हिस्से के तौर पर राज्य में 1,000 महिला बटैलियन की भर्ती को मंजूरी दे दी है। यह बटैलियन घाटी में पत्थरबाजी की घटना रोकने और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के काम में मदद करेगी।


- एक पखवाड़े से कश्मीर घाटी में छात्रों द्वारा विरोध प्रदर्शन की घटनाएं हो रही हैं।

- इन घटनाओं में छात्राएं भी सुरक्षाबलों पर पत्थर फेंकती देखी गई हैं।

- देश भर में कुल 144 रिजर्व बैटलियंस मौजूद हैं।

- इनमें से चार-चार बटैलियन नक्सल हिंसा प्रभावित 12 राज्यों में पहले से ही तैनात हैं।

- पांचों बटैलियन में 5 हजार पदों पर भर्ती की जानी है।

- इनके लिये जम्मू-कश्मीर के लगभग 1.40 लाख युवाओं ने आवेदन किया है।

- इनमें से 40 प्रतिशत आवेदन कश्मीर घाटी से मिले हैं।

- एक बटैलियन को शुरू करने पर कुल खर्च करीब 61 करोड़ रुपये आता हैं, जिसमें से 75 फीसदी राशि केंद्र सरकार देगी।