पीओके के साथ कई रास्ते खोलने चाहिए: महबूबा

नई दिल्ली ( 31 जुलाई ): जम्‍मू-कश्मीर की मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने क्रॉस एलओसी ट्रेड को बंद करने का कड़ा विरोध किया है। सेटरडे को श्रीनगर में पार्टी वर्कर्स को संबोधित करते हुए मुफ्ती का पाकिस्तान प्रेम भी छलका। उन्होंने कहा, मैं केंद्र सरकार से अपील करती हूं कि वह लाहौर घोषणा को दोबारा से लागू करे। जिससे हम जम्‍मू-कश्मीर में शांतिपूर्वक रह सकें। उन्होंने कहा कि पीओके के साथ कई रास्ते खोलना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले हुई गलतियों को सुधारना चाहिए। 

मुफ्ती ने कश्मीर और पीओके के बीच व्यापार बढ़ाने पर जोर देते हुए कहा कि जम्‍मू-कश्मीर के मसले को दबाया नहीं जा सकता है। इस बाबत हर सोच रखने वालों के साथ बातचीत जरूरी है। केंद्र सरकार को अटल बिहारी बाजपेयी के पथ का अनुसरण करना चाहिए। मुफ्ती ने कहा कि विचारधाराओं को कैद नहीं किया जा सकता है। सीएम मुफ्ती ने कहा कि पीओके के लोगों को अपने बच्चों को पढने के लिए कश्मीर भेजना चाहिए। दोनों ओर से व्यापार बढ़ाने के साथ ही यात्रा को भी बढ़ावा दिया जाना चाहिए। 

मुफ्ती ने कश्मीर और पीओके के विधानसभा सत्र को एक साथ बुलाने का भी सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि कश्मीर और पीओके के विधायकों की एक साथ बैठक होनी चाहिए। साथ ही कहा कि क्रॉस एलओसी ट्रेड को बंद करने की इजाजत नहीं दी जा सकती है। उन्होंने भारत और पाकिस्तान के बीच बेहतर रिश्ते बनाने की भी वकालत की। 

दरअसल, हुर्रियत नेताओं के खिलाफ  पाकिस्तान आतंकी फंडिंग की जांच कर रही एनआईए ने केंद्रीय गृह मंत्रालय से क्रॉस एलओसी ट्रेड बंद करने की सिफारिश की है, जिसका मुफ्ती विरोध कर रही हैं।