अलगाववादियों के दोहरे रवैये पर भड़के कश्मीरी

नई दिल्ली ( 29 अक्तूबर ) : कश्मीर घाटी में अलगाववादी संगठन हुर्रियत कॉन्फ्रेंस की ओर से स्कूलों को बंद करने के आह्वान का स्कूली छात्रों के परिजनों ने विरोध किया है। हुर्रियत की ओर से बंद के आह्वान के विरोध में प्रदर्शन करते हुए छात्रों के अभिभावकों ने अलगाववादी नेता सैय़द अली शाह गिलानी पर निशाना साधते हुए कहा कि स्कूल खुलने चाहिए। गिलानी साहब की पोती है, वो एग्जाम दे रही है। आखिर हमारे बच्चों का भविष्य क्यों खराब कर रहे हैं।

एक छात्र के पिता ने अपनी पहचान उजागर न करने की शर्त पर मुंह ढककर बयान दिया, गिलानी साहब अपने परिवार को सुरक्षित रख रहे हैं। लेकिन हमारे जैसे गरीब लोगों का फायदा उठाया जा रहा है। मुझे अपनी जान का खतरा है, इसलिए मैंने आपसे बात करने के लिए अपना चेहरा ढक रखा है।

शनिवार को श्रीनगर में स्कूलों को बंद किए जाने और आतंकी हमलों की धमकी के विरोध में छात्रों के परिजनों ने विरोध किया। परिजनों का कहना है कि इस तरह से गरीब छात्रों की शिक्षा में बाधा पहुंचाना गलत है। ऐसा नहीं किया जाना चाहिए।

भारत और चीन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच कई मुद्दों पर बात होगी जिसमें मतभेदों को दूर करने, तनावपूर्ण द्विपक्षीय मुद्दों और आपसी संबंधों को सुधारने पर चर्चा होगी।