Blog single photo

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों का आतंकियों पर प्रहार

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम और रेशीपोरा में सुरक्षाकर्मियों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो रहा है। इस मुठभेड़ में अबतक दो आतंकियों के मारे जाने की खबर है। वहीं एक सुरक्षाकर्मी के शहीद होने की भी जानकारी मिल रही है

आसिफ सुहाफ, न्यूज 24 ब्यूरो, श्रीनगर (27 सितंबर): जम्मू-कश्मीर के कुलगाम और रेशीपोरा में सुरक्षाकर्मियों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो रहा है। इस मुठभेड़ में अबतक 3 आतंकियों के मारे जाने की खबर है। वहीं एक सुरक्षाकर्मी के शहीद होने की भी जानकारी मिल रही है। कुलगाम के रेड़वनी इलाके में सुरक्षाकर्मियों को आतंकियों के छुपे होने की खुफिया जानकारी मिली थी। इस जानकारी पर कार्रवाई करते हुए सुरक्षाकर्मियों ने इलाके को घेर लिया। खुद को घिरता देख आतंकियों ने सुरक्षाकर्मियों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इस फायरिंग में एक जवान शहीद हो गए। वहीं जवाबी कार्रवाई करते हुए सुरक्षाकर्मियों ने दो आतंकियों को मार गिराया। अभी भी यहां मुठभेड़ जारी है। सिर्फ कुलगाम ही नहीं बल्कि पुलवामा में भी एनकाउंटर चल रहा है। पुलवामा के हाफू क्षेत्र में ये मुठभेड़ जारी है, सुरक्षाबलों ने पूरे क्षेत्र को घेर लिया है।

आपको बता दें कि ऑपरेशन ऑल आउट के तहत सुरक्षाकर्मियों ने जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की कमर तोड़ दी है। सुरक्षाकर्मी कहर बनकर आतंकियों पर टूट रहे हैं। सटीक खुफिया जानकारी पर सुरक्षाकर्मी रोजाना सर्च ऑपरेशन चलाकर आतंकियों को खात्म कर रहे हैं। सुरक्षाकर्मी घाटी में मौजूद आतंकियों का चुन-चुनकर खात्म कर रही है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, कश्मीर घाटी में इस साल अबतक ऑपरेशन ऑल आउट के तहत सुरक्षा बलों ने 226 आतंकवादियों को ढेर किया है। इससे पिछले साल का रिकॉर्ड टूट गया है। 2017 में 213 आतंकवादी ऑपरेशन ऑलआउट में मारे गए थे।इतना ही नहीं सुरक्षाबलों ने पिछले 3-4 दिन में करीब 20 आतंकवादियों को मार गिराया है। हालांकि इस ऑपरेशन में सुरक्षा बलों के जवानों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक 25 नवंबर 2018 तक सुरक्षा बलों के 56 जवान शहीद हुए हैं। जबकि पिछले साल अलग-अलग ऑपरेशन के दौरान 59 जवान शहीद हुए थे।

Tags :

NEXT STORY
Top