जम्मू-कश्मीर: शहीद जवान औरंगजेब की अंतिम विदाई, उमड़ा जनसैलाब

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 16 जून ): भारतीय सेना के शहीद जवान औरंगजेब का पार्थिव शरीर जम्मू-कश्मीर में उनके गांव लाया गया, जहां उन्हें अंतिम विदाई दी गई। शहीद जवान की अंतिम विदाई लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। औरंगजेब को आतंकियों ने अगवा कर लिया था और उनकी हत्या कर दी थी। 14 जून को पुलवामा में उनका शव मिला था।भारतीय सेना के शहीद जवान औरंगजेब का पार्थिव शरीर शनिवार दोपहर करीब एक बजे पुंछ में उनके गांव सलानी पहुंचा। इस दौरान हजारों लोगों की भीड़ औरंगजेब के अंतिम दर्शनों में गांव में उमड़ आई और लोगों की आंखें नम थीं। गांव में हर कोई गमजदा है। इस दौरान सेना के अफसर और जवान भी अपने इस साथी को अंतिम विदाई लेने के लिए यहां पहुंचे है।

इससे पहले सेना के अफसरों ने उनके पिता मोहम्मद हनीफ से मुलाकात की। देश के लिए अपने बेटे को गंवा चुके मोहम्मद हनीफ के इरादे अब भी कमजोर नहीं पड़े हैं। वह अब भी कह रहे हैं कि घाटी के लिए आतंक घातक है। वह घाटी में मौजूद आतंकवाद के लिए वहां के नेताओं को जिम्मेदार मानते हैं। उन्‍होंने सेना के अफसरों कहा, सेना को अब कश्मीर से आतंकवाद को उखाड़कर फेंकना होगा। उन्होंने कहा, घाटी में नेता सत्ता के लिए जवानों को मरवा रहे हैं। लेकिन अब आतंकवाद के खिलाफ सख्त रुख दिखाना होगा।