आज ही के दिन भारत का अभिन्न अंग बना था जम्मू-कश्मीर

नई दिल्ली (26 अक्टूबर ): आज ही के दिन जम्‍मू-कश्‍मीर का भारत का अंग बना था। 26 अक्‍टूबर 1947 को जम्मू-कश्मीर के तत्कालीन महाराजा हरि सिंह ने राज्‍य का भारत में विलय का ऐलान किया था। दरअसल 20 अक्टूबर, 1947 को पाकिस्तानी सेना कबायलियों के भेष में जम्मू-कश्मीर पर हमला कर दिया था। पाकिस्तान की नियत जम्मू-कश्मीर को हड़पना था और महाराजा हरि सिंह पाकिस्तान की इस नियत को बखूबी समझते थे। पहले तो उनकी सेना ने पाकिस्तानी सैनिकों को रोकने की कोशिश लेकिन वो नाकाम साबित हुए। लिहाजा हरि सिंह ने  भारत से मदद की गुहार लगाई और 26 अक्‍टूबर 1947 को उन्होंने जम्मू-कश्मीर के भारत में विलय के दस्‍तावेजों पर साइन किया।

 

इस विलय के साथ ही भारतीय सेना ने मोर्चा संभाला और जम्मू-कश्मीर को हड़पने के पाकिस्तान के मनसूबे को जम्मू-कश्मीर के लोगों ने भारतीय सेना के साथ मिल कर नाकाम कर दिया। संयुक्त राष्ट्र के युद्धविराम प्रस्ताव के बावजूद पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों पर अवैध कब्जा जमा लिया, जो आज भी जारी है।