J&K में तेजी से हालात हो रहे हैं सामान्य, 14 दिन बाद आज खुले प्राइमरी स्कूल और सरकारी दफ्तर

Jammu & Kashmir

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 अगस्त): जम्मू-कश्मीर में हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं। राज्य के हर हिस्से में जिंदगी पटरी पर लौट रही है। आज से श्रीनगर में स्कूल खुल गए हैं। तकरीबन 14 दिनों के बाद स्कूल खुलने से बच्चों में उत्साह दिखा। बड़ी संख्या में बच्चे पढ़ाई करने के लिए स्कूल पहुंचे। सड़कों और बाजारों में भी चहल-पहल देखी जा रही है। जम्मू क्षेत्र में स्कूल-कॉलेज पहले ही खोले जा चुके हैं। दूसरी ओर, किसी भी अव्‍यवस्‍था से निपटने के लिए सेना समेत अन्‍य सुरक्षा बल 24 घंटे मोर्चे पर तैनात हैं।  बताया जा रहा है कि जितने दिनों तक स्‍कूल बंद रहे हैं, उनके बदले इस महीने बाद में पूरक कक्षाएं लगाई जाएंगी।

Jammu & Kashmir

जम्‍मू कश्‍मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद तेजी से हालात सुधर रहे हैं। सुरक्षा व्यवस्था में ढील दी जा रही है। लिहाजा यहां एकबार फिर तेजी से रौनक लौटने लगी है। हालांकि प्रशासन ने जम्मू में इंटरनेट सेवा बहाल करने का आदेश वापस ले लिया है। जम्मू, सांबा, कठुआ, उधमपुर और रियासी में मोबाइल और इंटरनेट सेवा को फिलहाल बंद करने का फैसला लिया गया है। बताया जा रहा है कि सरकार पूरे कश्मीर में धीरे-धीरे इंटरनेट सेवा बहाल करेगी। वहीं, श्रीनगर में हाजियों का पहला जत्था वापस लौट आया है। घर लौटे हाजी परिवार के बीच पहुंचकर बेहद भावुक थे। उन्हें उम्मीद है कि कश्मीर में जिदंगी तेजी से पटरी पर लौटेगी और हालात सामान्य होंगे।

जम्‍मू कश्‍मीर के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने रविवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बताया कि अभी केवल श्रीनगर के प्राइमरी स्‍कूलों को ही दोबारा खोला जा रहा है। जिन क्षेत्रों में विद्यालय खोले जाएंगे उनमें लासजान, सांगरी, पंथचौक, नौगाम, राजबाग, जवाहर नगर, गगरीबाल, धारा, थीड, बाटमालू और शाल्टेंग शामिल हैं। स्थिति सामान्‍य होते ही धीरे धीरे अन्‍य क्षेत्रों के स्‍कूलों में भी पढ़ाई शुरू हो जाएगी। कंसल ने बताया कि कश्‍मीर घाटी में पाबंदियों में दी गई ढील जारी है। स्‍थानीय अधिकारी हालातों का जायजा ले रहे हैं। जल्‍द ही कुछ और पाबंदियां हटाई जा सकती हैं। रोहित कंसल ने बताया कि श्रीनगर के उपायुक्त शाहिद इकबाल चौधरी ने शनिवार को शिक्षा विभाग के अधिकारियों और विद्यालयों के प्रमुखों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में जिले में विद्यालयों को खोलने को लेकर गहन चर्चा हुई। विद्यार्थियों की सुरक्षा जिला प्रशासन की मुख्य चिंता है और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए गए हैं।

ज्यादा जानकारी के लिए देखिए न्यूज 24 की ये रिपोर्ट...