पत्रकार खशोगी की हत्या में कैंचियों और सिरिंज का किया गया इस्तेमाल: रिपोर्ट

                                                       image source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 14 नवंबर ): पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में आए दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं। अब तुर्की के एक अखबार ने नया दावा किया है। अखबार के मुताबिक, इस्तांबुल गए 15 सदस्यीय सऊदी दल के सामान में कैंची और सिरिंज जैसी चीजें थीं। माना जा रहा है कि इन चीजों को खशोगी के खिलाफ इस्तेमाल किया गया होगा। सबह ने मंगलवार को सऊदी दल के सामान की एक्स-रे तस्वीरें छापीं।

सबह अखबार की मानें तो सऊदी दल का सामान दो विमानों में रखा गया था, जिन्होंने 2 अक्टूबर को रियाद के लिए उड़ान भरी थी। बता दें कि खशोगी को अपनी शादी के दस्तावेज हासिल करने के लिए दो अक्टूबर को इस्तांबुल स्थित सऊदी वाणिज्य दूतावास में प्रवेश करते हुए आखिरी बार देखा गया था। कई बार इंकार करने के बाद सऊदी अरब ने आखिरकार स्वीकार किया कि 59 वर्षीय पत्रकार की हत्या हो गई थी।

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन के मुताबिक, 15 सदस्यीय सऊदी दल खशोगी की हत्या के लिए रियाद से इंस्ताबुल आया था। एर्दोआन ने कहा कि सऊदी अरब, अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन के अधिकारियों ने इस्तांबुल में सऊदी अरब के दूतावास में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या से जुड़ी रिकार्डिंग सुनी है। तुर्की के कुछ मीडिया संगठनों और अधिकारियों ने कहा कि अंकारा के पास हत्या की ऑडियो रिकार्डिंग है और उसने सीआईए प्रमुख जीना हास्पेल के साथ इसे उस वक्त साझा किया था, जब वह अक्टूबर के अंत में तुर्की की यात्रा पर थीं।