जेटली मानहानि केस में केजरीवाल पर कोर्ट ने लगाया 5000 रुपये का जुर्माना

नई दिल्ली (4 सितंबर): दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर दिल्ली हाईकोर्ट ने 5000 रुपये का जुर्माना लगाया है। हाईकोर्ट ने केजरीवाल पर ये जुर्माना वित्त मंत्री अरुण जेटली मानहानि केस में अदालत ने अनुशासनात्मक कार्रवाई के तहत किया है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने अरुण जेटली की ओर से दायर 10 करोड़ रुपये के एक नए मानहानि के मुकदमे में केजरीवाल पर 5,000 रुपये का जुर्माना लगाया है।

केजरीवाल पर यह जुर्माना जवाब देने में देरी के चलते लगाया गया है। केजरीवाल के खिलाफा 10 करोड़ रुपये के मानहानि के एक मुकदमे की सुनवाई के दौरान केजरीवाल के वकील राम जेठमलानी द्वारा आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करने को लेकर जेटली ने केजरीवाल के खिलाफ 10 करोड़ रुपये का ही एक और मुकदमा कर दिया। कोर्ट ने केजरीवाल जुर्माने की यह राशि युद्ध में हताहत सैनिकों के लिए बने सैन्य कल्याण कोष में जमा करने का निर्देश दिया है।


ज्वाइंट रजिस्ट्रार केजरीवाल पर पहले भी 10,000 रुपये का जुर्माना लगा चुके हैं। जेटली के वकील माणिक डोगरा ने अदालत को यह सूचित किया था कि अदालत ने 26 जुलाई को जवाब दाखिल करने के लिए कहा था, लेकिन मुख्यमंत्री का लिखित बयान निर्धारित समय के दो सप्ताह बाद दायर किया गया। डोगरा ने दलील दी कि यह मुख्यमंत्री की तरफ से देरी करने के हथकंडे हैं।