अनजान लोगों से यह महिला पहले बनाती थी संबंध, फिर...!

जयपुर(7 जनवरी): राजस्थान पुलिस ने सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। रैकेट में एक 26 वर्षीय एनआरआई महिला भी शामिल है। यह महिला डॉक्टर, बिल्डर, रिजोर्ट मालिकों, जूलर्स जैसे हाई-प्रोफाइल क्लांट्स को फंसाती थी और फिर उनसे पैसे ऐंठती थी।

- पुलिस के मुताबिक, महिला पीड़ितों से रिलेशनशिप में आने के बाद उन्हें रेप केस में फंसाने की धमकी देकर पैसों की मांग करती थी। पीड़ितों को किसी सेक्स विवाद में अपना नाम न आने के डर से उसे पैसे देने पड़ते थे।

- राजस्थान पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने गुरुवार को रवनीत कौर नाम की इस महिला को गिरफ्तार किया। यह महिला उस सेक्स रैकेट का हिस्सा है, जिसका भंडाफोड़ पुलिस ने 24 दिसंबर को किया था।

- अडिशनल एसपी, एसओजी करण शर्मा ने बताया कि हॉन्गकॉन्ग में पैदा हुई रवनीत 2008 में अपनी दादी के पास रहने के लिए पंजाब के फरीदकोट में अपने गांव आ गई। यहां आकर उसने 2009 में इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट की पढ़ाई की और फिर गुड़गांव आ गई। जहां वह एक दोस्त के परिवार के साथ रहने लगी। 2012 में वह रोहित शर्मा नाम के युवक से मिली, जो एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई कर रहा था। इसी यूनिवर्सिटी में रवनीत अपना बीबीए कर रही थी और दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया।

- दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन दोनों के बेरोजगार होने के कारण रोहित के परिवार ने इसका विरोध किया।

- इस महिला ने पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में बताया कि रोहित के मां ने जब जॉब न होने के कारण शादी होने इनकार कर दिया, तो वह जल्दी और ज्यादा पैसा कमाने की कोशिश करने लगी। बाद में 2013 में उसकी मुलाकात सेक्स रैकिट के सरगना अक्षत शर्मा से हुई, जिसने उसे 12,000 प्रति महिना की जॉब ऑफर की। इसके बाद वह गैंग के दूसरे सदस्यों से भी मिली।

- इस गैंग के लोगों को लगा कि रवनीत किसी भी तरह पैसा कमाना चाहती है, को उन्होंने उस अपने रैकेट में शामिल कर लिया। 2014 में उसे एक नामी बिल्डर के पास भेजा गया। इसके बाद इस गैंग ने बिल्डर से 1.2 करोड़ रुपये की मांग की नहीं तो उसे रेप केस आरोप में फंसाने की धमकी दी। यह रवनीत की पहली डील थी, जिसमें उसे 30 लाख रुपये मिले।

- फरवरी 2016 में रवनीत ने रोहित से शादी कर ली। तब तक वह करीब 1 करोड़ रुपये जमा कर चुकी थी और उसने करीब 6 लोगों को अपने जाल में फंसाया। हालांकि रवनीत के पति रोहित को इस बारे में कोई अंदाजा नहीं था। और शादी के बाद रवनीत रैकेट छोड़कर अपनी सामान्य जिंदगी जीना चाहती थी। वह बस रोहित के परिवार को यह प्रूव करना चाहती थी कि वह अच्छा खासा पैसा कमा सकती है।