'इंसानी स्लाटर हाउस हैं इस देश की जेल, बेचे जा रहे हैं जिंदा कैदियों के अंग'

नई दिल्ली (26 जून): तिब्बत पर कब्जा करने और दलाई लामा समर्थक तिब्बतियों पर दमन चक्र चलाने वाली चीन सरकार अब फालुन गोंग समुदाय के बौद्ध अनुयायिओं को समूल नष्ट करने का षडयंत्र कर रही है। चीन की कम्युनिस्ट सरकार के इसस षडयंत्र का खुलासा ईथन गटमैन नाम के अमेरिकी खोजी लेखक ने किया है।

हालांकि गटमैन की किताब 'द स्लाटर- मास किलिंग्स, ऑरगन हारवेस्टिंग एंड चाइनाज़ सीक्रेट सोल्युशन टू इट्स डिसिडेंट प्रॉब्लेम'पहले ही काफी हंगामा मचा चुकी है। लेकिन उन्होंने हाल ही में  कुछ ऐसी जानकारियां ऑन लाइन प्रकाशित की हैं जिनसे चीन की पूरी दुनिया में किरकिरी हो रही है। हालांकि चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनइंग ने गटमैन की वेबसाइट पर प्रकाशित जानकारियों फोटोग्राफ्स और चीन में मानव अंगो के लिए सरकार विरोधियों की हत्या की रिपोर्ट को तथ्यहीन और भ्रामक करार दिया है।

लेकिन, ईथन गटमैन ने जो खुलासा किया है वो काफी भयावह है। गटमैन की रिपोर्ट का सारांश है कि फालुन गोंग समुदाय के अनुयायिओं गिरफ्तार कर जेलों में डाल दिया जाता है फिर उनके अंग निकाल कर अस्पतालों में बेच दिया जाता है।

गटमैन ने दावा किया है चीन के अस्पतालों में हर साल एक लाख से ज्यादा मानव अंगों का प्रत्यार्पयण हो रहा है। जब कि चीन सरकार महज 10 हजार अंग प्रत्यर्पय़ण बात ही स्वीकार करती है।