अब शादी समारोह में ले गए हथ‍ियार तो होगी जेल

नई दिल्ली (5 दिसंबर): पंजाब के बठिंडा की घटना से सबक लेते हुए हरियाणा गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राम निवास ने एक बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि शादी-विवाह समारोह के दौरान हथियारों के प्रयोग से हाल ही की घटनाओं को गम्भीरता से लेते हुए राज्य में शादी-विवाह के दौरान धारा 144 के अन्तर्गत हथियारों को ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

राम निवास ने कहा कि यह एक चिंता का विषय है कि शादी-विवाह में लोग शराब पीकर हथियारों का इस्तेमाल करते हैं और जाने-अनजाने में घटनाएं घट जाती हैं। उन्होंने कहा कि इस गम्भीरता को देखते हुए पुलिस को सम्बन्धित जिला मैजिस्ट्रेट से समन्वय स्थापित करके शादी-विवाह समारोह में हथियारों को ले जाने पर रोक लगाने के लिए कहा गया है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने बताया कि किसी भी हथियार द्वारा यदि हवाई फायर किया जाता है तो यह भी एक अपराध है और इसके लिए 6 महीने के कारावास का प्रावधान भी है। इसलिए उन्होंने राज्य के लोगों से अनुरोध किया है कि शादी-विवाह के दौरान यदि आपका कोई सगा संबंधी या पारिवारिक सदस्य शादी-विवाह में हथियार ले जाता है तो उसे इसके लिए रोकें। क्योंकि भारतीय दण्ड संहिता के तहत यह एक उल्लंघन भी है और इसमें सजा भी हो सकती है।