संसद में गूंजा कुलभूषण की फांसी का मामला, देश में पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा


नई दिल्ली(11 अप्रैल): पाकिस्तान में भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को जासूसी के आरोप में फांसी की सजा दिए जाने का मुद्दा मंलगवार को देश की संसद में भी गूंजा। कांग्रेस ने इसे लेकर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि अगर उसे बचा नहीं पाए तो ये सरकार की कमजोरी होगी। अगर उसे फांसी होती है तो हम सोचा समझा मर्डर कहेंगे।


- वहीं देशभर में पाकिस्तानी सेना की इस करतूत के खिलाफ गुस्सा भड़क उठा है।


- सोशल मीडिया पर पाकिस्तान को खरी खोटी सुनाने के साथ ही लोग सड़कों पर भी प्रदर्शन कर रह हैं। उधर पाकिस्तानी उच्चायुक्त ने इस मामले पर चुप्पी साध ली है।


- कांग्रेस की ओर से सोमवार को ही बताया गया था कि वह मंगलवार को इस मुद्दे को संसद में उठाएगी। सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले पार्टी ने लोकसभा में इसे लेकर स्थगन प्रस्ताव दिया है।


-दूसरी तरफ देश के आम लोगों में पाकिस्तान को लेकर गुस्सा भड़क उठा है। सोमवार शाम से ही सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक यह गुस्सा देखने को मिल रहा है। ट्विटर पर कुलभूषण का नाम टॉप ट्रेंड्स में शामिल है, तो वहीं फेसबुक पर भी लोग इसे लेकर लगातार पोस्ट डाल रहे हैं। उधर नागपुर में लोग पाकिस्तान के इस कदम का विरोध करते हुए सड़कों पर आ गए। उन्होंने 'पाकिस्तान मुर्दाबाद' के नारे लगाए और उसका पुतला भी फूंका। कुछ लोग जाधव की तस्वीर भी हाथ में लिए हुए थे।


- इस बीच खुद पाकिस्तान के अधिकारी भी इस मुद्दे पर कुछ बोलने को तैयार नहीं है। भारत में पाकिस्तान के राजदूत अब्दुल बासित से मीडिया ने जब इस संबंध में बात करनी चाही तो वह सवालों से बचते हुए बिना कुछ कहे ही निकल गए। उन्होंने अपनी कार तक नहीं रोकी।