जबलपुर: ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में 200 धमाके, 6 से ज्यादा कर्मचारी घायल


भोपाल(26 मार्च): जबलपुर के ऑर्डिनेंस फैक्ट्री खमरिया में शनिवार शाम आग लगने के बाद 200 से ज्यादा ब्लास्ट हुए। इसमें छह से ज्यादा इम्पलॉईज के जख्मी होने की खबर है, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हुई है।


- आग बुझाने के लिए 50 फायर ब्रिगेड माैके पर पहुंचे। एंटी टैंक बमों में आग लगने की वजह से हर दो सेकंड में एक ब्लास्ट हुआ। आसपास रहने वाले लोगों ने बताया कि ब्लास्ट से उनके घर में दरारें आ गईं।


- फैक्ट्री में शाम करीब 6.25 बजे हुए हुए हादसे में अचानक जोरदार धमाका हुआ। इसके बाद आग फैली और एक के बाद एक 200 से ज्यादा ब्लास्ट हुए।


- हादसे में छह से ज्यादा इम्पलॉईज के जख्मी होने की खबर है, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हुई है।


- हर दो सेकंड में ब्लास्ट और आग की ऊंची लपटों से फैक्ट्री के आसपास करीब चार किलोमीटर के एरिया में हड़कंप मच गया। धमाकों में एंटी टैंक बम फिलिंग स्टेशन के आसपास की कई बिल्डिंग भी बर्बाद हो गईं।


- बताया जा रहा है कि F-3 में जहां धमाके हुए, उसी के पास NSN मैगजीन की 1800 पेटियों को पुलगांव (महाराष्ट्र) डिपो भेजने के लिए रैक पर लोड किया जा रहा था।


- साथ ही पास की यूनिट में एंटी टैंक बमों की फिलिंग भी हो रही थी। ऐसे में सेना भी मदद के लिए आगे आई।


- फायर ब्रिगेड की 50 गाड़ियों ने तीन घंटे की मशक्कत के बाद रात 9:15 बजे बिल्डिंग की अाग पर काबू पाया, लेकिन पूरी आग नहीं बुझ सकी है। घटना के बाद नाइट शिफ्ट में प्रोडक्शन बंद रहा।


- लोगों ने बताया कि लगातार धमाकों के कारण आग बुझाने की हर कोशिश नाकाम हो रही थी। धमाकों से आसपास के इलाकों नानक नगर, मानेगांव, पिपरिया, वर्धा घाट मटामर, टाइप टू से निकलकर फैक्टरी के गेट नंबर-1 के पास पहुंच गए। घर हिल गए और दरारें आ गईं।