BREAKING NEWS: अरुणाचल के राज्यपाल जेपी राजखोवा बर्खास्त

नई दिल्ली (12 सितंबर): इस समय एक बड़ी खबर अरुणाचल प्रदेश से आ रही है। जहां पर राज्यपाल जेपी राजखोवा को बर्खास्त कर दिया गया है। राजखोवा से इस्तीफा मांगा गया था, लेकिन जब उन्होंने पद से इस्तीफा नहीं दिया तो उन्हें बर्खास्त कर दिया गया।

दरअसल, गवर्नर पर विवाद की स्थिति अरुणाचल प्रदेश में सुप्रीम कोर्ट द्वारा राष्ट्रपति शासन को हटाकर फिर से कांग्रेस की सरकार बनाने के आदेश के बाद से हो रहा था। विपक्षी पार्टियां संसद (राज्यसभा, लोकसभा) में लगातार अरुणाचल का मुद्दा उठाती रहीं और राजखोवा को वापस बुलाने की मांग करती रहीं। विपक्ष और अब गृह मंत्रालय का भी आरोप है कि राजखोवा ने कांग्रेस की सरकार को ‘सताने’ का काम किया है।

सुप्रीम कोर्ट ने 13 जुलाई को कांग्रेस की सरकार को फिर से बहाल करके राजखोवा के निर्णय को असंवैधानिक करार दिया था। राजखोवा ने पहले राष्ट्रपति शासन लगाया था और फिर नई सरकार बनाने के आदेश दे दिए थे। वह सरकार कांग्रेस के बागी विधायकों ने बीजेपी के साथ मिलकर बनाई थी। कांग्रेस के बागी विधायक कलिखो पुल को मुख्यमंत्री बनाया था। जिन्होंने कांग्रेस की फिर से सरकार बनने के आदेश के बाद खुदकुशी कर ली थी।