30 अप्रैल तक आधार से जोड़ें बैंक अकाउंट, नहीं तो हो जाएगा ब्लॉक

दिल्ली ( 13 अप्रैल ): आयकर विभाग ने कहा कि जुलाई 2014 से अगस्‍त 2015 के बीच खोले गए बैंक अकाउंट को 30 अप्रैल तक केवाइसी डिटेल्‍स के साथ आधार नंबर बैंक व संबंधित वित्‍तीय संस्‍थानों के पास दर्ज कराना होगा साथ ही फॉरन टैक्स कॉम्प्लायंस एक्ट (एफएटीसीए) के तहत सभी जानकारियों को सेल्फ सर्टिफाइ करना होगा। अगर खाताधारक ऐसा करने में विफल रहते हैं, तो उनके अकाउंट ब्लॉक कर दिए जाएंगे।


खाता ब्लॉक होने पर किसी तरह का लेनदेन नहीं किया जा सकेगा। आयकर विभाग ने कहा कि विदेशी खाता कर अनुपालन अधिनियम (FATCA) के तहत सभी खाताधारक 30 अप्रैल तक अपनी केवाईसी जानकारी एवं आधार नंबर बैंकों एवं वित्तीय संस्थानों को हरहाल में उपलब्ध करा दें।


भारत और अमेरिका ने कर चोरी रोकने के लिए FATCA के तहत 31 अगस्त 2015 को एक समझौता किया है, जिसमें खाता धारकों के वित्तीय लेन-देन की जानकारी एक दूसरे से साझा करने का प्रावधान किया गया है। अभी तक कई एनआरआई के खाते आधार कार्ड से लिंक नहीं हैं।