कालेधन के खिलाफ मुहिम जारी, 10 साल पुराने लेन-देन की जांच होगी

नई दिल्ली (3 फरवरी): बजट के प्राविधानों से साफ होगया है कि कालाधन के खिलाफ सरकार की मुहिम जारी रहेगी। सरकार ने कालाधन बाहर लाने के लिए आयकर विभाग को और पैना कर दिया है। संदिग्ध आय वाले खातों की अब 10 साल पुराने लेन-देन की जांच फिर से की जा सकेगी। इतना ही नहीं संदिग्ध खाताधारक को आयकर विभाग के सभी सवालों का जवाब भी देना जरूरी होगा। अभी तक आयकर में हेरा-फेरी की जांच के लिए विभाग केवल छह साल पुराने लेन-देन की जांच कर सकता था। आयकर अधिनियम की धारा 153-ए में संशोधन कर दिया है। संशोधन इसी साल एक अप्रैल 2017 सरकार ने प्रभावी होगा।