इतिहास रचने की तैयारी, एक ही मिशन में 22 सैटेलाइट्स लॉन्च करेगा ISRO

तिरुवनंतपुरम (29 मार्च): देश एक नया इतिहास रचने की तैयारी कर रहा है। भारत एक साथ 22 सैटेलाइट्स का प्रक्षेपण करने जा रहा है। इनमें विदेश के माइक्रो और नैनो सैटेलाइट्स दोनों शामिल हैं। ये प्रक्षेपण इस साल मई महीने में एक ही मिशन में होंगे।

'इकॉनॉमिक टाइम्स' की रिपोर्ट के मुताबिक, इंडियन स्पेस रीसर्च ऑर्गेनाइजेशन (इसरो) के वर्कहॉर्स पोलर रॉकेट PSLV C34 के जरिए स्वदेशी काटोर्सैट 2C के साथ कई देशों के 21 सैटेलाइट लॉन्च किए जाएंगे। इन देशों में अमेरिका, कनाडा, इंडोनेशिया और जर्मनी भी शामिल हैं।

इसरो के विक्रम साराभाई स्पेस सेंटर (वीएसएससी) के डायरेक्टर के सीवान ने बताया, "हमारी योजना PSLV C34 के जरिए 22 सैटेलाइट्स को प्रक्षेपित करने की है। एक बार में 10 सैटेलाइट्स हम पहले ही प्रक्षेपित कर चुके हैं। अब हम इस संख्या को दोगुना करने जा रहे हैं। उम्मीद है कि हम मई में ये प्रक्षेपण कर सकेंगे।"

ये प्रक्षेपण श्रीहरिकोटा के स्पेसपोर्ट सतीश धवन स्पेस सेंटर से किए जाएंगे। यह स्थान चेन्नई से 100 किलोमीटर दूर स्थित है। गौरतलब है, इससे पहले नासा 2013 में सिंगल लॉन्च में एक साथ 29 सैटेलाइट्स प्रक्षेपित कर चुका है। जो एक वर्ल्ड रेकॉर्ड है।