ISRO ने PSLV-33 का किया सफल प्रक्षेपण, 1,500 किमी तक की देगा जानकारी

नई दिल्ली (28 अप्रैल) : सरों ने आज दोपहर पीएसएलवीसी-33 का सफल प्रक्षेपण किया। इसके साथ आईआरएनएसएस-1जी उपग्रह भी हरिकोटा से लॉन्च किया गया। इस सफलता के बाद 1,500 किमी तक की सटीक जानकारी मिलने में मदद मिलेगी। उधर, पीएम नरेंद्र मोदी ने वैज्ञानिको को दी बधाई है।

इसरो ने बताया कि आईआरएनएसएस-1जी 44.4 मीटर लंबा और 320 टन का ध्रुवीय उपग्रह है। भारत के स्वदेशी उपग्रह नौवहन प्रणाली के पहले चरण के लिये आवश्यक सात उपग्रहों की श्रृंखला में यह सातवां और आखिरी सैटेलाइट है। 

प्रक्षेपण के साथ ही भारत क्षेत्रीय उपग्रह नौवहन प्रणाली रखने वाले विशिष्ट देशों के क्लब में शामिल हो गया है। इस सफलता पर पीएम नरेंद्र मोदी ने आईएसआरओ के वैज्ञानिकों को बधाई देते हुए कहा कि यह देशवासियों के लिए गर्व की बात है।