ISRO की कामयाबी से जला चीन, कहा भारत अब भी बहुत पीछे

बेंगलुरु (20 फरवरी): भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानि ISRO ने जहां एक साथ 104 सेटेलाइट्स अंतरिक्ष में छोड़कर रिकॉर्ड बनाया है वहीं चीन भारत की इस कामयाबी से जलता हुआ नजर आ रहा है। भारत की तारिफ करते हुए चीनी मीडिया ने कहा है कि भारत ने चीन की तुलना में कमर्शियल सेटेलाइट्स पहले लॉन्च कर तकनीक क्षेत्र में बेहतरीन काम किया है। इससे सीख चीन भी दुनिया की सेटेलाइट मार्केट में कमर्शियल सेटेलाइट लॉन्च करने की दिशा में अपने प्रयास तेज कर सकता है।

चीन की शंघाई इंजिनियरिंग सेंटर फॉर माइक्रोसेटेलाइट्स के नई तकनीक विभाग के डायरेक्टर झांग योंघी ने कहा है कि सेटेलाइट्स लॉन्च के ज़रिए दिखा दिया कि भारत अंतरिक्ष में कम कीमत में कमर्शियल सेटेलाइट्स भेज सकता है। इससे चीन को अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष बाज़ार में कमर्शियल सेटेलाइट भेजने में कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना होगा।

इसके बाद चीनी मीडिया में इस तरह की ख़बरें छपी है जिसमें कहा गया है कि अंतरिक्ष में कमर्शियल सेटेलाइट लॉन्च कर भारत की सफलता को देख चीन अपने कमर्शियल रॉकेट लॉन्च की कोशिशों में और तेज़ी ला सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबकि झांग का कहना है कि भारत ने चीन की तुलना में कहीं ज़्यादा बेहतरीन काम किया है।