पड़ोसियों को पीएम मोदी का तोहफा, ISRO लांच किया 'सार्क' सेटेलाइट

नई दिल्ली  (5 मई): भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी यानी ISRO दक्षिण एशिया संचार उपग्रह जीसैट-9 को लांच कर दिया है। ISRO ने इसे श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लांच किया। इस सैटेलाइट यानी उपग्रह के प्रक्षेपण से दक्षिण एशियाई देशों के बीच संपर्क को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही दक्षिण एशिया क्षेत्र में चीन के प्रभाव को कम किया जा सकेगा।


ISRO ने इस भूस्थिर संचार उपग्रह का निर्माण किया है। जीसैट-9 को भारत की ओर से उसके दक्षिण एशियाई पड़ोसी देशों के लिए उपहार माना जा रहा है। इस उपग्रह को इसरो का रॉकेट जीएसएलवी एफ-09 से लांच किया।


आठ सार्क देशों में से सात भारत, श्रीलंका, भूटान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल और मालदीव इस प्रोजेक्ट का हिस्सा हैं। पाकिस्तान ने यह कहते हुए इससे बाहर रहने का फैसला किया कि उसका अपना अंतरिक्ष कार्यक्रम है। इस उपग्रह की लागत करीब 235 करोड़ रुपये है और इसका उद्देश्य दक्षिण एशिया क्षेत्र के देशों को संचार और आपदा सहयोग मुहैया कराना है।