12 जनवरी को ISRO लगाएगा शतक, एक साथ छोड़ेगा 31 उपग्रह

नई दिल्ली (10 जनवरी): भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी ISRO अंतरिक्ष में एक और उड़ान भरने जा रहा है। 12 जनवरी को ISRO अंतरिक्ष में एक साथ 31 उपग्रह छोड़ने जा रहा है। बताया जा रहा है कि यह भारत में तैयार अब तक का सबसे वजनी सैटेलाइट है। लगभग छह टन वजन वाला यह एक संचार सैटेलाइट है, जिसे जीसैट-11 नाम दिया गया है। इसे शुक्रवार सुबह 9.30 बजे आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित किया जाएगा।

आपको बता दें कि 2018 में PSLV का यह पहला मिशन है, जिसके अंतर्गत अंतरिक्ष अभियान के तहत ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (PSLV-C40) के जरिए 31 उपग्रह लॉन्च किए जाएंगे। इस अभियान से चार महीने पहले 31 अगस्त को इसी तरह का रॉकेट पृथ्वी की निचली कक्षा में भारत के 8वें नौवहन उपग्रह को पहुंचाने में विफल रहा था।

काटरेसैट-2 एक पृथ्वी अवलोकन उपग्रह है, जो उच्च-गुणवत्ता वाला चित्र प्रदान करने में सक्षम है, जिसका इस्तेमाल शहरी व ग्रामीण नियोजन, तटीय भूमि उपयोग, सड़क नेटवर्क की निगरानी आदि के लिए किया जा सकेगा।