थोड़ी देर में ISRO रचेगा इतिहास, एक साथ लांच करेगा 104 उपग्रह

नई दिल्ली (15 फरवरी): भारतीय अतंरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी  ISRO थोड़ी देर मेंएक साथ 104 उपग्रहों को कक्षा में स्थापित कर एक नया इतिहास रचेगा। अगर भारत अपने मिशन में कामयाब होता है तो वो इस तरह के मिशन को सफल बनाने वाला दुनिया का पहला देश बन जाएगा। इसके लिए 28 घंटे की उल्टी गिनती मंगलवार सुबह करीब साढे पांच बजे चेन्नई से 125 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा में जारी है।

 

पीएसएलवी-सी 37 कार्टोसेट-2 सीरीज के उपग्रह मिशन के प्रक्षेपण के लिए उलटी गिनती मंगलवार सुबह 5:28 बजे शुरू हुई। इससे ठीक पहले मिशन रेडीनेस रिव्यू कमेटी एंड लांच ऑथोराइजेशन बोर्ड ने प्रक्षेपण की मंजूरी दी थी। संगठन के मुताबिक, वैज्ञानिकों ने रॉकेट के प्रोपेलैंट को भरना शुरू कर दिया है।

अब तक रूस के पास एक साथ सबसे अधिक उपग्रह छोड़ने का रिकॉर्ड है। उसने 37 उपग्रहों को एक साथ प्रक्षेपित कर यह मुकाम हासिल किया था। इसरो भी जून 2015 में एक साथ 23 उपग्रह प्रक्षेपित कर अपनी काबलियत साबित कर चुका है।