'जिहादी दुल्हन' बनाने के लिए लड़कियों को डेटिंग वेबसाइट्स के जरिए फंसा रहा है IS

नई दिल्ली (18 मई): आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) इराक और सीरिया के लिए जिहादी दुल्हनों को आकर्षित करने के लिए़ डेटिंग वेबसाइट्स का इस्तेमाल कर रहा है। 

'मेलऑनलाइन' की रिपोर्ट के मुताबिक, कट्टरपंथियों ने अरबी भाषा के एक प्लेटफॉर्म में घुसपैठ की है। जिससे युवतियों की शादी आईएस के लड़ाकों से की जा सके। एक खुफिया अधिकारी ने बताया कि किस तरह एक लड़की को आतंकी की तरफ से संपर्क किया गया। जिसने संगठन की प्रभाव वाले शहर रक्का में रहने का दावा किया है।

इस लड़की के परिवार ने इस बात की जानकारी दी, कि उनकी बेटी "खतरनाक लोगों" से ऑनलाइन बातचीत कर रही है। संदिग्ध आतंकी ने उसे अपने बड़े घर के बारे में बताया। इसके अलावा कहा कि वह इस घर में आएगी तो किस तरह उसके पास कई नौकर होंगे। लड़की से कहा गया कि उसका पति एक हैंडसम फाइटर होगा। यहां तक कि उसके पास खूबसूरत जूलरी की फोटोग्राफ्स भी भेजी गईं। जिन्हें वेडिंग नाइट पर खरीदकर देने का वादा भी किया गया।

रिपोर्ट के मुताबिक, जिस लड़की से संपर्क किया गया वह जॉर्डन के शहर जर्का की रहने वाली है। उसे सीरिया जाने से पहले ही रोक दिया गया। जॉर्डन के एक अज्ञात अधिकारी के हवाले से बताया गया, "यह मामला दिखाता है कि किस तरह आईएस भर्ती के लिए डेटिंग साइट्स का इस्तेमाल कर रहा है।"