दिल्ली दहलाना चाहती है ISIS की एक खूबसूरत महिला एजेंट

नई दिल्ली (12 अप्रैल):  भारत की राजधानी दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था देश के बाकी शहरों से कई गुना ज्यादा है। यहां खुफिया और सुरक्षा बलों की पैनी निगाहें किसी भी संदिग्ध को तुरंत रडार पर ले लेती हैं, फिर भी एक महिला का ज़िक्र आते ही अच्छे-अच्छे सूरमा सिहर उठते हैं। वज़ह भी कुछ खास है, इसलिए हर कोई उसका नाम आते ही चौंकन्ना हो जाता है। दरअसल, भारतीय मील की यह महिला है तो कनाडा की रहने वाली, लेकिन अब इसने दिल्ली में आईएसआईएस की रीजनल कमान संभाल ली है।

कहा जा रहा है कि इसके बोल-चाल की भाषा बिल्कुल दिल्ली के पंजाबियों जैसी है। इसलिए इस पर किसी को शक भी नहीं हो सकता। इस महिला का मकसद दिल्ली को धमाकों से दहलाना है। इसकी उम्र लगभग 35 साल है। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक छरहरी और खूबसूरत नैन-नक्श वाली यह महिला अपनी बातों और अदाओँ से लोगों को जल्दी ही अपने जादू में फांस लेती है। इसलिए दिल्ली सहित सभी एयरपोर्ट पर सख्त एलर्ट जारी कर दिया गया है। यह भी कहा गया है कि इस महिला के इर्द-गिर्द आईएसआईएस के कुछ और भी एजेंट हो सकते हैं।

दिल्ली में इसके घुसने के संभावित रास्तों का एक मैप बनाया गया है। दूसरे देशों से भी इस महिला के बारे में जानकारियां इकट्ठी की जा रही हैं। इस महिला से पहले ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली आदिल फयाज वादा नाम की एक महिला जिहादी बनने के लिए सीरिया गयी थी। अब तक 24 भारतीयों ने आईएसआईएस के भ्रम जाल में फंस चुके हैं। जिनमें से छह अलग-अलग घटनाओं में मारे जा चुके हैं और दो वापस आ चुके हैं। जबकि 16 युवा अब भी आईएसआईएस के लिए सक्रिय हैं। ऐसा समझा जाता है कि पंजाबी वेश-भूषा और बोल-चाल वाली ये महिला एजेंट उन्हीं 16 में से एक है।