खुलासा: ISIS ज्वाइन करने वाले 4 युवक भी जाकिर नाइक से थे प्रभावित

नई दिल्ली (9 जुलाई): ज़ाकिर नाईक को लेकर हर रोज़ नए-नए खुलासे हो रहे हैं। कल्याण से आईएसआईएस ज्वाइन करने वाले 4 युवकों का डॉ ज़ाकिर नाईक से कन्नेक्शन सामने आया है। कल्याण से आईएस ज्वाइन करने वाले ये सभी युवक कल्याण के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन में जाते थे। वहां मुफ्त में अपनी सेवा भी देते थे। 

आईआरएफ का छोटा सा दफ्तर मोहसिन खान चलाता था। मोहसिन की लम्बे समय तक एटीएस ने जांच भी की थी और उस वक्त मोहसिन खान को क्लीन चिट दिया था। सूत्रों की माने तो एनआईए को आरिब मजीद ने बताया है की वो शुरू में ज़ाकिर नाईक की इस्लाम की किताबें पढ़ने और तकरीर सुनने से प्रभावित हुआ था।

जाकिर का पाक कनेक्शन नया खुलासा उसके एक और पाकिस्तान कनेक्शन को लेकर हुआ है। सूत्रों के मुताबिक ज़ाकिर को फॉलो करने वाला आतंकी राहील अब्दुल रेहमान शेख पाकिस्तान में है। 2006 में मुंबई ATS और दिल्ली स्पेशल सेल ने राहिल शेख के ग्रैंट रोड स्थित घर पर छापेमारी की थी। उस समय राहिल शेख दीवार फांद कर भाग गया था।

बाद में उसकी लोकेशन बांग्लादेश में पता चली। अब पता चला है कि राहिल शेख की मौजूदा लोकेशन पाकिस्तान है। सूत्रों का कहना है कि खुलासा ये भी हुआ है कि औरंगबाद आर्म्स हौल केस में आरोपी फिरोज देशमुख ज़ाकिर की नाईक इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन की लाइब्रेरी में काम करता था। सूत्रों का कहना है कि फिरोज देशमुख का ही दोस्त राहिल शेख है।