ISIS ने ली हमले की जिम्मेदारी, दो संदिग्ध सुसाइड़ बॉम्बर्स की तस्वीर जारी

अमित कुमार, नई दिल्ली (21 मार्च): बगदादी की आतंकी ब्रिगेड आईएसआईस की कायरना हरकत ने बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स को सीरियल ब्लास्ट से दहला दिया। एक के बाद एक 3 बम धमाकों ने दर्जनों लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों लोग घायल हो गए। खबर है कि कुख्यात इस्लामिक आतंकी संगठन आईएसआईएस ने ब्रसेल्स हमले की जिम्मेदारी ली है। स्थानीय पुलिस ने हमले के दो संदिग्ध सुसाइड बॉम्बर्स की तस्वीर जारी की है। ये दोनों पेरिस हमले मामले में भी संदिग्ध हैं। इनके नाम नाजिम लाचराऊ और मोहम्मद अबरिनी है।

ब्रसेल्स के जावेंटेम एयरपोर्ट पर दो शक्तिशाली धमाके हुए। धमाके से पहले एयरपोर्ट पर हमलावरों ने गोलियां बरसाईं। सूत्रों के मुताबिक, हमलावर अरबी में चिल्ला रहे थे। उसके बाद एयरपोर्ट पर धमाके हुए। धमाके इतने जबरदस्त थे कि इमारत तक हिली और खिड़कियां टूट गईं। तीसरा धमाका मालबीक मेट्रो स्टेशन पर हुआ। सर्च ऑपरेशन में एयरपोर्ट पर तीन सुसाइड बेल्ट भी मिले। मालबीक मेट्रो स्टेशन के धमाके के बाद मेट्रो स्टेशन को खाली करवाया गया।

ब्रस्लेस हमले पर पूरी दुनिया भर में निंदा की जा रही है बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स मिचेल ने कहा कि हमारे देश के लिए यह काला लम्हा है, हमें शांति और एकजुटता की जरुरत है। उधर इस घटना के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट किया है। मोदी ने कहा कि ब्रसेल्स से आ रही खबरें पीड़ादायक हैं, ये हमले निंदनीय हैं। मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। इसी महीने 30 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत-ईयू शिखर सम्मेलन के लिए बेल्जियम जाने वाले हैं। आतंकी हमले के बाद भी प्रधानमंत्री की पहले से तय यात्रा में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

4 दिन पहले ही पेरिस हमलों के मास्टरमाइंड सालेह अब्देसलाम को बेल्जियम से गिरफ्तार किया गया था। सालेह आईएसआईस सुप्रीमो बगदादी का बायां हाथ बताया जाता है। शक जताया जा रहा है कि सालेह की गिरफ्तारी और आईएस पर कसते शिकंजे की वजह से आईएस ने बदले की कार्रवाई की है। ब्रसेल्स की आतंकी घटना के बाद भारत में भी अलर्ट कर दिया गया है।