ISIS ने पार की क्रूरता की हद, ईद पर कांट डाले इंसान

नई दिल्ली (13 सितंबर): शायद इससे ज्यादा क्रूर खबर आपने अपने जीवन में नहीं पढ़ी होगी। एक तरह जहां पूरी दुनिया ईद के जश्‍न में डूबी हुई है, वहीं सीरिया से एक दुखद खबर सामने आई है। खबर के अनुसार, ISIS बकरीद के मौके पर कुछ बंधकों को मवेशियों की तरह हुक से उलटा लटकाया और उन्हें काट डाला।

संगठन ने इस घटना का वीडियो जारी किया है। यह वीडियो उत्तर पूर्वी सीरिया के डेर अज-जोर स्थित एक बूचड़खाने में बनाया गया। वीडियो में कुछ बंधक नजर आते हैं, जिन्हें अमेरिका का जासूस बताया गया है। वीडियो का शीर्षक 'द मेकिंग ऑफ इलूशन' है। इसमें 2015 में रिलीज टॉम क्रूज की फिल्म 'रोग नेशन' की कुछ क्लिपिंग्स जोड़ी गई हैं।

वीडियो में उन फिल्मों की क्लिपिंग्स डाली गई हैं, जिनमें जासूसों की गतिविधियां दिखाई गई हैं। बताया जा रहा है कि आईएसआईएस ने इस वीडियो को विदेशी खुफिया एजेंसियों का मजाक उड़ाने के लिए बनाया है। मानवाधिकार संगठन 'रक्का इज बींग स्लॉटर्ड' के संस्थापक अबू मोहम्मद ने इस वीडियो को अब तक की सबसे खौफनाक फिल्म करार दिया है। अबू ने कहा कि इस वीडियो में इंसानों को भेड़-बकरियों की तरह काटा गया।

आईएसआईएस के वीडियो में एक जगह सफेद कपड़े पहना जल्लाद दोनों हाथों में एक-एक इंसान लेकर आगे बढ़ते दिखता है। बाद में वह इन दोनों के गले रेत देता है। खून उन नालियों से बह जाता है, जिन्हें मवेशियों के लिए बनाया गया है।

वीडियो में दिखता है कि बंधकों को हुक पर पैर से बांधकर उलटा लटका दिया जाता है। एक-एक करके उनका गला काटा जाता है, जबकि बगल में उल्टे लटके दूसरे बंधक अपनी मौत का इंतजार करते दिखते हैं। 12 मिनट के इस वीडियो में आईएसआईएस आतंकियों द्वारा पूर्व में दी गई मौत की सजाओं और बंधकों को दी गई दर्दनाक यातनाओं के फुटेज भी जोड़े गए हैं।