कंगाल हो गया ISIS ?

बगदाद (19 फरवरी): युद्ध के मोर्चे पर ही नहीं आर्थिक मोर्चे पर भी आतंकवादी संगठन ISIS हारता दिखाई दे रहा है। इस्लामिक राज्य बनाने का सपना पाले बैठे ISIS यहां युद्ध के मैदान में लगातार हार रहा है वहीं उसकी आर्थिक हालद भी बदहाल है और वो लगातार कंगाल होता जा रहा है।

ISIS का बिजनस मॉडल लगातार कमजोर हो रहा है और इसके हाथ से हर इलाके के फिसलने के साथ ही पैसे की लड़ाई भी हार रहा है।

इंटरनैशनल सेंटर फॉर द स्टडी ऑफ रैडिकलाइजेशन एंड पॉलिटिकल वॉयलेंस द्वारा जारी जांच रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि ISIS का बिजनस मॉडल कमजोर होता जा रहा है। यह 2014 के मध्य से ही हो रहा है जब संगठन ने बैंकों, तेल के कुंओं और हथियारों के गोदामों पर कब्जा करना शुरू किया था। रिपोर्ट के अनुसार ISIS की आय वर्ष 2014 में 1.9 अरब डॉलर से घटकर 2016 में 87 करोड़ डॉलर तक ही रह गई है।

लंदन के किंग्स कॉलेज में सेंटर के निदेशक पीटर न्यूमैन का कहना है किISIS के बारे में हमने पहले जो गलतियां की उनमें इसे पूरी तरह से आतंकवादी संगठन मानना शामिल है। यह आतंकवादी से बढ़कर है। यह पूरे क्षेत्र पर कब्जा रखता है, जिसका मतलब है कि इसके खर्चे अधिक होंगे। इसे सड़क से स्वास्थ्य तक सभी सेवाओं का खर्च खुद ही वहन करना पड़ता होगा।