आईएसआईएस ने अमेरिकी सैनिकों पर किया केमिकल हथियारों से हमला

नई दिल्ली (22 सितंबर): इराक के मोसुल में आईएसआईएस ने अमेरिकी सुरक्षाबलों पर केमिकल हथियारों से हमला किया है।  'द गार्जियन' के मुताबिक, पेंटागन ने इस बात की पुष्टि भी की। हालांकि, यूएस अधिकारियों ने इस मामले को अधिक तूल इसलिए नहीं दिया, क्योंकि इसमें कोई भी हताहत नहीं हुआ। यह हमला मंगलवार को मोसुल के नजदीक एक एयरबेस पर हुआ।

गौरतलब है कि इस एयरबेस को जुलाई में ही आईएस के चंगुल से छुड़ाया था। यूएस फोर्सेज पर यह केमिकल हमला मोर्टार या रॉकेट के जरिए मस्टर्ड को एजेंट बनाकर किया गया। मस्टर्ड, एक प्रतिबंधित केमिकल हथियार है, जिसे बनाना बेहद आसान है। इराकी तानाशाह सद्दाम हुसैन कुर्दिश नागरिकों और ईरानी सैनिकों पर इसका इस्तेमाल करता था। यह केमिकल हथियार सबसे अधिक नुकसानदेह गैस की अवस्था में होता है। हालांकि, पेंटागन के अधिकारियों ने बुधवार को यह स्पष्ट किया आईएस की ओर से यह केमिकल पाउडर स्टेट में छोड़ा गया।