कश्मीर में हिंसा फैलाने के लिए रोहिंग्याओं को भर्ती कर रही है पाक खुफिया एजेंसी ISI

नई दिल्ली (20 सितंबर): म्यांमार के रोहिंग्या मसले को पाकिस्तान भारत के खिलाफ इस्तेमाल करने की योजना बना रहा है। इतना ही नहीं पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के इशारों पर लश्कर-ए-तैयबा जम्मू-कश्मीर में हिंसा फैलाने के लिए रोहिंग्या मुसलमानों को आतंकी शिविरों में भर्ती कर रहा है। भारतीय खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि लश्कर के दो आतंकी शाहिद महमूद और नदीम अवान बांग्लादेश पहुंचे हुए हैं। ये दोनों रोहिंग्याओँ को आतंकी शिविरों में भर्ती कर रहे हैं और उन्हें ट्रेनिंग भी दे रहे हैं। यह भी जानकारी मिली है कि पाकिस्तानी मूल का एक रोहिंग्या अब्दुल कुद्दूस बर्मी लश्कर के संपर्क में है। बर्मी हरकत-उल-जिहाद-अल-इस्लामी नाम के आतंकी गिरोह का सरगना है। बर्मी और लश्कर सरगना हाफिज सईद के आपस में अच्छे संबंध हैं।