ISI एजेंट शमशुल हुदा का बड़ा खुलासा, भारत में रेल हादसों के पीछे पाकिस्तान

नई दिल्ली (7 फरवरी): कानपुर में पिछले साल 20 नवंबर को हुए रेल हादसे के मास्टरमाइंड शमशुल हुदा समेत 4 लोगों को काठमांडू से गिरफ्तार किया गया है। काठमांडू पुलिस के मुताबिक होदा को सोमवार को त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअडडे से हिरासत में लिया गया। होदा के साथ गिरफ्तार 3 अन्य लोगों की पहचान बृज किशोर गिरि, आशीष सिंह और उमेश कुमार कुर्मी के रूप में हुई है। ये सभी दक्षिणी नेपाल के कलैया जिले के रहने वाले हैं।

फिलहाल इन आरोपियों से नेपाल पुलिस पूछताछ कर रही है। वहीं शमशुल हुदा से पूछताछ करने के लिए NIA की टीम नेपाल के लिए रवाना हो चुकी है।

शुरुआती जानकारी में पता चला है कि इन आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल लिया है। पूछताछ में इन लोगों ने खुलासा किया है कि भारत में ट्रेन को टारगेट करने के लिए पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI टारगेट कर रहा था। इस लोगों के मुताबिक काठमांडू और पोखरा में बिजनेस कर रहे कुछ कश्मीरी ISI के इशारे पर फंडिंग कर रहा था। इनके फंडिग के तार सिंगापुर, हांगकांग, दुबई और ढाका से भी जुड़ते नजर आ रहे हैं।

बड़ा खुलासा...

- पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI रेल को टारगेट करने के लिए कर रही है फंडिंग

- काठमांडू और पोखरा में बिजनेस कर रहे कश्मीर के कुछ लोग ISI के इशारे पर फंडिंग कर रहे है

- सिंगापुर, हांगकांग, दुबई और ढाका से भी फंडिंग के जुड़े तार

- भारत में रेल को  टारगेट करने के लिए ISI ने नेपाल के नेपालगंज,कृष्णानगर,परसा बीरगंज, रौताहात और सुनसरी में भर्ती केंद्र भी बनाये

- नेपाली पासपोर्ट पर कुछ लोगों को पाकिस्तान भेजकर टेरर कैंप में ट्रेनिंग दी गयी

- काठमांडू के कुछ होटल्स की भी पहचान हुई है जो  ISI के लिए काम करता है