20 से 30 साल की युवतियों को हो रही अज्ञात बीमारी 'ब्रेस्ट टीबी' तो नहीं...?

नई दिल्ली (29 मार्च): महाराष्ट्र का लातूर जहां पानी की विभीषिका से जूझ रहा है तो वहीं पुणे की 20 से 30 साल की महिलाओं में अज्ञात बीमारी तेजी से फैल रही है। भाभा कैंसर अस्पताल, महाराष्ट्र ऑंकोलॉजिस्ट एसोसिएशन सहित तमाम बड़े संगठन और चिकित्सा विशेषज्ञ इस अज्ञात बीमारी का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन किसी को सफलता नहीं मिली है।

एक अंग्रेजी अखबार ने लिखा है कि डॉक्टरों के मुताबिक इस बीमारी से ग्रस्त पहले दो-तीन महीनों में 40 से 50 वर्ष की एक महिला रोगी आती थी, लेकिन अब इसी बीमारी से ग्रस्त 20 से 30 साल की उम्र की 5-6 महिलाएं हर महीने आ रही हैं। इस बीमारी में महिला के स्तन में गांठ हो जाती है, और फिर दर्द के साथ पस निकलने लगता है। साधारण भाषा में कहा जाये तो महिलाओँ के स्तन अचानक पकने शुरु हो जाते हैं, और उनमें से पस निकलता रहता है। कई महिलाओं की बायोपसी करवायी गयी, लेकिन उसमें से किसी को भी कैंसर नहीं था। कुछ डॉक्टरों ने कहा कि ये ब्रेस्ट ट्यूबरक्लोसिस (स्तन की तपेदिक) हो सकती है, मगर इसके भी कोई पुख्ता सुबूत नहीं हैं।