ढाका आतंकी हमले पर इरफान ने बयां किया दिल का दर्द, कहा- "चुप ना बैठें मुस्लिम"

नई दिल्ली (4 जुलाई) :  अभिनेता इरफान खान ने ढाका में हुए आतंकी हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है। फेसबुक पोस्ट में इरफान ने कहा कि ढाका आतंकी हमले की ख़बर ने उन्हें हिला कर रख दिया, वो भी तब जब रमजान का पवित्र महीना चल रहा है।

इरफान ने कहा-  जब हम बच्चे थे तो हमें कहा जाता था कि तब तक मत खाओ जब तक कि अपने साथ किसी भूखे पड़ोसी को खाने में शामिल ना करो। बांग्लादेश में आतंकी हमले की ख़बर सुनकर मेरे दिल के अंदर तक बहुत बेचैनी है।

इरफान ने कहा कि इस तरह की घटनाएं इसलिए होती हैं क्योंकि इस्लाम के सच्चे सिद्धांतों को लेकर सही जानकारी का अभाव है। इस स्थिति में इस्लाम का नाम लेकर किए जाने वाले अत्याचारों को लेकर मुस्लिमों को चुप नही बैठना चाहिए।

इरफान ने लिखा, आतंकी हमले किसी भी जगह हो पूरी दुनिया में मुस्लिमों का नाम खराब करते हैं। इरफान ने कहा- रहम और दया इस्लाम का आधार हैं। तो क्या मुस्लिमों को चुप बैठे रहना चाहिए और इस्लाम की अवमानना होती रहे। या उन्हें सक्रिय रूप से इस्लाम की इन ग़लत धारणाओं को सही करने के लिए आगे आना चाहिए।

बता दें कि इरफान अभी रमजान में कुरबानी को लेकर दिए अपने बयान के लिए सुर्खियों में रहे थे।

इरफान की पूरी पोस्ट इस प्रकार है-