IRCTC की वेबसाइट को नए रूप में लाॅन्च करेगा रेलवे, यात्रियों को मिलेंगी ये सुविधाएं

नई दिल्ली ( 28 मई ): आईआरसीटीसी की वेबसाइट में 29 मई से बदलाव होने जा रहा है। इस बदलाव के साथ यात्रियों को इसमें कई नई सुविधाएं मिलेंगी। रेलवे की नई व्यवस्था के तहत अब वेटिंग टिकट लेते समय आपको यह पता चल जाएगा कि सीट कन्फर्म होने की कितनी संभावना है। आईआरसीटीसी की वेबसाइट सेंटर फॉर रेलवे इन्फॉर्मेशन सिस्टम (CRIS) द्वारा तैयार एग्लोरिदम की मदद से यह यात्रियों को यह बताएगी कि वेटिंग लिस्ट के टिकट के कन्फर्म होने की कितनी संभावना है।रेलवे मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, 'पूर्वानुमान के नए फीचर के तहत कोई भी बुकिंग ट्रेंड्स के आधार पर यह पता लगा सकता है कि उसके वेट लिस्टेड या आरएसी टिकट के कन्फर्म होने की कितनी संभावना है। पहली बार हम पैसेंजर ऑपरेशंस और बुकिंग पैटर्न्स डेटा का खनन करेंगे।' अधिकारी ने बताया कि यह विचार रेलमंत्री पीयूष गोयल ने दिया था और उन्होंने इस सेवा को आईआरसीटीसी की वेबसाइट से जोड़ने के लिए 1 साल की डेडलाइन भी तय की थी।अधिकारी ने जानकारी दी कि एल्गोरिदम एक ठोस व्यावहारिक मॉडल तक पहुंचने के लिए पिछले 13 साल के डेटा का उपयोग करेगा। अधिकारी ने बताया कि कुछ प्राइवेट प्लेयर्स पुर्वानुमान सुविधा दे रहे हैं, लेकिन रेलवे का सिस्टम अधिक भरोसेमंद होगा, क्योंकि इसके पास डेटाबेस का अडवांटेज है।अधिकारी ने बताया, 'बुकिंग के दौरान प्रत्येक यात्री को एक अलग कार्ड दिया जाएगा, जिसमें वह अपनी डिटेल उपलब्ध कराएंगे। पहले से भरी हुई जानकारी जल्दी टिकट बुकिंग सुनिश्चत करेगी। 'My Profile' सेक्शन में यूजर पेमेंट विकल्प के रूप में छह बैंकों की वरियता सूची बना सकते हैं।' हर दिन करीब 13 लाख टिकट आईआरसीटीसी की वेबसाइट से बुक होते हैं, जबकि 10.5 लाख सीटें उपलब्ध हैं।