BREAKING : कुछ ही घंटो में बगदादी तक पहुंच जाएगी सेना

नई दिल्ली ( 31 अक्टूबर ) : इराक सेना ने कहा, कुछ ही घंटों में मोसुल में सेना प्रवेश कर जाएगी। isis के खिलाफ इराकी सेना आखिरी जंग छेड़ दी है।

मोसुल पर आईएस का कब्ज़ा है और इराक़ की सेना, कुर्द लड़ाके और उनकी सहयोगी सेनाओं ने शहर पर अधिकार के लिए अभियान छेड़ा हुआ है। 

इराक के दूसरे सबसे बड़े शहर मोसुल को ISIS के कब्जे से छुड़ाने के लिए इराकी सेना और कुर्दिश लड़ाकों ने बड़ा अभियान छेड़ रखा है।

IS को शहर के बाहर से कोई मदद न मिल सके, इसलिए करीब 40 हजार लड़ाकों ने मोसुल को चारों तरफ से घेर रखा है। मोसुल पर ISIS का जून 2014 से ही कब्जा है।

आईएसआईएस के लिए सब खत्म होने की कगार पर है फिर भी ये आतंकी संगठन खतरनाक हथियारों से, तबाही की तस्वीर में अपने रंग भरने की कोशिश से बाज नहीं आ रहा। 

इराकी सेना तेजी से आगे बढ़ती हुई मोसुल के नजदीक तक जा पहुंची हैं। मोसुल का शहरी इलाका अब भी इस्लामिक स्टेट के जेहादियों के कब्जे में है। बगदादी के आतंकियों ने मोसुल के आस पास ऐसा बंदोबस्त भी कर रखा है ताकि किसी भी सूरत में इराकी फौजियों को आसानी से दाखिला न मिल सके।

इराक और पेशमरगा सैनिकों के टैंक धड़धड़ाते हुए अब उन इलाकों में दाखिल हो रहे हैं। जिन इलाकों में आबादी भी है और वहां आईएसआईएस का पहरा भी तगड़ा है। हाल ही में आईएस ने अपनी शक्ति दिखाने के लिए रेतीली जमीन के टीले पर एक टैंक में धमाके से उड़ा कर उसका वीडियो जारी किया था। 

यह अमेरिकी टैंक इराकी सेना में अब्राम के नाम से जाना जाता है। जाहिर है, इसकी ताकत और मजबूती के बारे में किसी को कोई शक नहीं हो सकता।