तेहरान: शिया धर्मगुरु की हत्या के विरोध में सऊदी दूतावास में तोड़फोड़, लगाई गई आग

नई दिल्ली (3 जनवरी): सऊदी अरब के हाथों एक जाने माने शिया धार्मिक गुरु की हत्या के बाद ईरान में काफी नाराजगी फैल गई है। ईरान में इसके विरोध में रविवार सुबह प्रदर्शनकारी तेहरान की सऊदी दूतावास में घुस गए। प्रदर्शनकारियों ने दूतवास की छत से कागज फेकना शुरू कर दिया। इसके अलावा दूतावास को नुकसान पहुंचाते हुए वहां आगजनी भी की।

सेमीऑफीशिलय आईएसएनए न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, इसके बाद देश के शीर्ष पुलिस अधिकारी जनरल हुसैन सजदानिया मौके पर पहुंचे और पुलिस ने भीड़ को हटाने की कोशिश की। ये भीड़ शेख निम्र अल निम्र की हत्या से नाराज है। ईरान के शिया नेताओं मध्य पूर्व के दूसरे अन्य देशों ने रियाद की निंदा की है। इसके अलावा क्षेत्रीय प्रतिक्रिया की चेतावनी भी दी है।

गौरतलब है, सऊदी अरब ने शनिवार को 47 कैदियों की हत्या कर दी। इसमें अलकायदा के हिरासत में लिए गए सदस्य भी थे। इस घटना के बाद क्षेत्र के दो मुस्लिम पंथो के बीच तनाव बढ़ गया है। इन हत्याओं को जायज ठहराते हुए सऊदी अरब ने इन्हें आतंकवाद के खिलाफ युद्ध कहा। वहीं ईरानी नेताओं ने चेतावनी दी कि सऊदी राजतंत्र को अल-निम्र की मौत की भारी कीमत चुकानी होगी। 

ईऱानी विदेश मंत्रालय ने सऊदी राजदूत को तेहरान में विरोध करने के लिए समन भेजा। जबकि, सऊदी विदेश मंत्रालय ने बाद में कहा कि इसने ईरान के राजदूत को किंगडम में शेख की हत्या के मामले में जटिल ईरानी प्रतिक्रिया का विरोध करने के लिए समन भेजा। साथ ही कहा कि इससे आंतरिक मामलों में बड़ा हस्तक्षेप हुआ है। तेहरान में भीड़ सऊदी दूतावास के बाहर इकट्ठी हो गई और सऊदी विरोधी नारेबाजी करने लगी। कुछ विरोध प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी भी की। इसके अलावा तेल की बोतलें भी फेंकी। फिर इमारत के एक हिस्से में आग भी लगा दी।