हज करने मक्का नहीं जा पायेंगे ईरान के श्रद्धालू

नई दिल्ली (13 मई): ईरान ने कहा है कि मक्का में हज़ यात्रियों के पर्याप्त सुरक्षा इंतजा़म ने होने की वज़ह से इस साल वो अपने नागरिकों को हज के लिए नहीं भेजेगा। पहले से ही तनावपूर्ण स्थिति में चल रहे दो देशों के बीच यह एक और तनाव का कारण बन गया है। उधार ईरान ने कहा कि पिछले साल सितंबर में बदइंतजामी के चलते हुई दुर्घटना में कुल 2426 श्रद्धालु मारे गये थे, इनमें से 464 केवल ईरान के थे।

ईरान के सांस्कृतिक मंत्री अली जन्नाती ने काह कि हज यात्रियों की सुरक्षा के मुद्दे पर ईरान और सऊदी सरकारों के बीच विचार-विमर्श हुआ था, लेकिन उसमें कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया। अली जन्नाती ने कहा कि ईरान ने अपनी ओर से अधिकतम कोशिशें की मगर सऊदी सरकार ने किये कराये पर पानी फेर दिया। ईरान के पवित्र स्थलों में से एक शहर कौम की यात्रा पर आये अली जन्नाती ने कहा कि इस बार हज यात्रियों को न मक्का न भेजने का फैसला अभी फौरी तौर पर कन्फर्म है मगर आखिरी नहीं है।

ईरान और सऊदी अरब के बीच ताजा विवाद शिया धर्म गुरु शेख अल निम्र को फांसी दिये जाने के बाद शुरु हुआ था। शेख अल निम्र की फांसी पर ईरान ने तीव्र प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। इसके बाद तेहरान स्थित सऊदी दूतावास पर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला कर उसे आग के हवाले कर दिया था। सऊदी सरकार ने आरोप लगाया था कि ये हमला ईरान सरकार ने करवाया है।