अमेरिका ने ईरान से कहा, हमारे नागरिकों को तत्काल रिहा करो

नई दिल्ली ( 28 अप्रैल ): अमेरिका ने ईरान अपने नागरिकों के लापता होने या हिरासत में लिए जाने पर गंभीर चिंता जाहिर करते हुए ईरान से कहा है कि वह उन्हें ‘तुरंत रिहा’ करे ताकि वे अपने परिवारवालों से मिल सकें।


अमेरिकी विदेश मंत्रालय के कार्यकारी प्रवक्ता मार्क टोनर ने कहा, यह मामला संयुक्त समग, कार्य योजना के कार्यान्वयन की निगरानी कर रही संयुक्त आयोग की 25 अप्रैल को वियाना में हुई बैठक से इतर उठाया गया। वहां अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल ने ईरान के प्रतिनिधि मंडल के समक्ष ईरान में उसके नागरिकों के लापता होने या उन्हें हिरासत में लिए जाने पर अपनी चिंता जाहिर की।


उन्होंने कहा, ”अमेरिकी प्रतिनिधि मंडल ने ईरान से तत्काल अमेरिकी नागरिकों को रिहा करने के लिए कहा है ताकि वे अपने परिवार वालों से मिल सकें।” रिपोर्टों के मुताबिक अमेरिकी नागरिक सियामक नमाजी को अन्यायपूर्ण तरीके से ईरान में अक्टूबर 2015 से हिरासत में रखा गया है और उसके 81 वर्षीय पिता बकर नमाजी (एक अमेरिकी नागरिक) भी ईरान में फरवरी 2016 से हिरासत में हैं।


ईरानी-अमेरिकी कारोबारी सियामक नमाजी और उनके पिता बकर नमाजी ईरान की जेल में 10 साल की सजा काट रहे हैं। ईरान दोहरी नागरिकता को मान्यता नहीं देता है।