हज के मैनेजमेंट से सऊदी अरब का नियंत्रण हो खत्म: ईरान

नई दिल्ली (5 सितंबर): ईरान के सबसे बड़े नेता अयातुल्लाह अली खामेनेई ने सऊदी अरब की नए सिरे से आलोचना शुरू की है। उन्होंने पिछले साल हज के दौरान हुए भयानक हादसे में सैकड़ों तीर्थयात्रियों की मौत को लेकर सऊदी अरब पर निशाना साधा है। उन्होंने सुझाव दिया कि मुस्लिम देशों को हर साल होने वाली हज यात्रा को रियाद के नियंत्रण से मुक्त करने पर विचार करना चाहिए।

- खामेनेई ने अपनी वेबसाइट और ईरान की सरकारी मीडिया में एक मैसेज जारी किया।

- मैसेज में कहा, "इन (सऊदी) शासकों के अल्लाह के तीर्थयात्रियों के प्रति दमनकारी व्यवहार के कारण इस्लामी दुनिया को दो पवित्र स्थलों के प्रबंधन और हज के मुद्दे पर पुनर्विचार करना चाहिए।" - उन्होंने कहा- "उन्हें इन शासकों को उन अपराधों के लिए जिम्मेदार ठहराने से नहीं बचाया जा सकता। जिनकी वजह से इस्लामी दुनिया को नुकसान हुआ," - गौरतलब है, 2015 के हादसे के बाद सऊदी अरब की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा। जिसमें रियाद के मुताबिक, 769 तीर्थयात्रियों की मौत हुई थी। - यह हज के दौरान 1990 से हुई अब तक की सबसे ज्यादा मौतों का मामला था।