IPL-9: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने राइजिंग पुणे सुपर जाएंट्स को 13 रनों से हराया

नई दिल्ली(23 अप्रैल): कप्तान विराट कोहली और एबी डिविलियर्स के बीच बड़ी शतकीय साझेदारी की मदद से रायल चैलेंजर्स बैंगलोर ने महेंद्र सिंह धोनी की राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स को 13 रन से हराकर आईपीएल नौ में फिर से जीत की राह पकड़ी।

डिविलियर्स और कोहली की धुआंधार बैटिंग

डिविलियर्स ने 46 गेंदों पर छह चौकों और चार छक्कों की मदद से 83 रन की धमाकेदार पारी खेली। कोहली ने अपनी शानदार फार्म जारी रखी और 63 गेंदों पर 80 रन बनाये जिसमें सात चौके और दो छक्के शामिल हैं। इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 155 रन की साझेदारी की। यह आईपीएल में कुल पांचवां और इस सत्र में तीसरा मौका है, जबकि कोहली और डिविलियर्स ने शतकीय साझेदारी निभायी। उनकी इस भागीदारी से आरसीबी ने तीन विकेट पर 185 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया।

रहाणे और धोनी की कोशिश गई नकाम बैंगलोर के बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी पुणे टीम की तरफ से अजिंक्य रहाणे (46 गेंदों पर 60 रन) और धोनी (38 गेंदों पर 41 रन) ने दूसरे विकेट के लिए 73 गेंदों पर 91 रन की साझेदारी करके टीम को शुरुआती झटकों से उबारा जरूर, लेकिन वे अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाए। आखिरी चार ओवरों में 65 रन की दरकार थी। इस बीच तिसारा परेरा ने 13 गेंदों पर तीन चौकों और इतने ही छक्कों की मदद से 34 रन की तूफानी पारी खेली, लेकिन इसके बावजूद सुपरजाइंट्स आठ विकेट पर 172 रन तक ही पहुंच पाया।

आरसीबी की दूसरी जीत, पुणे की लगातार तीसरी हार आरसीबी की यह चौथे मैच में दूसरी जीत है, जिससे उसके चार अंक हो गए हैं। पुणे ने भी चार मैच खेले हैं, लेकिन उसे लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा है। चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करने के लिए उतरे सुपरजाइंट्स को दूसरे ओवर में दो करारे झटके लगे। पिछले दो मैचों में अर्धशतक जड़ने वाले फाफ डुप्लेसिस ने मिड ऑफ पर लंबा शाट खेलने के प्रयास में हवा में लहराता कैच दिया, जबकि केन रिचर्डसन की अगली गेंद को रक्षात्मक रूप से खेलने के प्रयास में नए बल्लेबाज केविन पीटरसन के टखने में चोट लग गई और उन्हें तुरंत क्रीज छोड़नी पड़ी।

शुरुआत से ही संकट में दिखी पुणे संकट की इस स्थिति में धोनी और रहाणे एक दो रन लेकर स्कोर बोर्ड चलायमान रखने को तरजीह दी, लेकिन रन और गेंदों के बीच अंतर बढ़ते रहने से बड़े शॉट की दरकार भी साफ नजर आ रही थी। रहाणे ने 37 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया, लेकिन टीम की स्थिति तब भी अच्छी नहीं थी। चाइनामैन गेंदबाज तबरेज शम्सी की गेंद पर आगे बढ़कर शॉट मारने के प्रयास में रहाणे स्टंप आउट हो गए। उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके लगाए। परेरा ने शम्सी की अगली गेंद पर पगबाधा की विश्वसनीय अपील पर बचने के बाद पुणे की पारी का पहला छक्का जड़ा, लेकिन डिविलियर्स ने धोनी की छह रन के लिये भेजी गयी गेंद को सीमा रेखा पर दौड़ते हुए कैच में तब्दील कर दिया। धोनी ने अपनी पारी में केवल तीन चौके लगाए।

परेरा ने आखिरी ओवर में ला दिय था रोमांच पुणे को आखिरी चार ओवरों में 65 रन की दरकार थी और उसके मुख्य बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे। परेरा और रजत भाटिया ने हालांकि स्थानीय दर्शकों की उम्मीदों को बनाए रखा। परेरा ने वाटसन पर छक्का जड़ने के बाद हर्षल पटेल पर लगातार तीन चौके और एक छक्का जड़कर मैच रोमांचक बना दिया। अब पुणे को दो ओवर में केवल 25 रन चाहिए थे, लेकिन वाटसन ने परेरा को कवर पर मनदीप सिंह के हाथों कैच करा दिया। भाटिया ने भी 21 रन बनाए, लेकिन इससे हार का अंतर ही कम हो पाया। केन रिचर्डसन ने 13 रन देकर तीन विकेट लिये। रायल चैलेंजर्स इस सत्र में अकेली टीम है जिसने दूसरी बार अपने स्कोर का सफल बचाव किया।

इससे पहले कोहली और विलियर्स की धुआंधार बल्लेबाजी से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने आईपीएल नौ के मैच में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के खिलाफ तीन विकेट पर 185 रन का मजबूत स्कोर बनाया था। पुणे की तरफ से तिसारा परेरा ने अपनी धीमी गेंदों का अच्छा उपयोग किया और 34 रन के एवज में तीन विकेट लेकर सुपरजाइंट्स के सफल गेंदबाज रहे। हालांकि दूसरी तरफ इशांत शर्मा महंगे साबित हुए। उन्होंने चार ओवरों में 47 रन दिए, जबकि महेंद्र सिंह धोनी ने रविचंद्रन अश्विन को तीन ओवर सौंपे, जिसमें उन्होंने केवल 22 रन दिए।   बैंगलोर को जल्द ही लग गया पहला झटका रॉयल चैलेंजर्स को कोहली ने अच्छी शुरुआत दिलायी, जिससे टीम पावरप्ले के छह ओवरों में लोकेश राहुल (सात रन) का विकेट गंवाने के बावजूद 48 रन बनाने में सफल रही। कोहली ने इस बीच इशांत पर स्क्वायर लेग पर खूबसूरत छक्का भी लगायावहीं डिविलियर्स ने क्रीज पर कदम रखने के बाद कोहली के साथ स्ट्राइक रोटेट करने पर ध्यान दिया। इस दक्षिण अफ्रीकी धुरंधर ने जल्द ही अपने तेवर दिखाने शुरू किए और फिर लंबे शॉट की झड़ी लगा दी। कोहली ने रणनीतिक बल्लेबाजी करके डिविलियर्स को स्ट्राइक सौंपने पर ध्यान दिया। डिविलियर्स ने अंकित शर्मा पर छक्का जड़कर शुरूआत की जो आरसीबी की तरफ से आईपीएल में उनका 100वां छक्का था।

शानदार फॉर्म में कोहली कोहली ने इसके उलट अर्धशतक पूरा करने के लिए 47 गेंद खेली। यह आईपीएल में उनका 22वां और करियर का 42वां अर्धशतक है। उन्होंने टी-20 की पिछली छह पारियों में पांचवीं बार पचासा पूरा करके अपनी शानदार फॉर्म जारी रखी। इन दोनों की क्रीज में मौजूदगी से आरसीबी आखिर के चार ओवरों में 48 रन जुटाने में सफल रहा। कोहली ने दिल्ली रणजी टीम के अपने साथी इशांत पर लगातार दो चौके जमाए, जबकि डिविलियर्स ने उन पर छक्का जड़ा। परेरा के पारी के आखिरी ओवर में इन दोनों ने लंबा शॉट खेलने के प्रयास में अपने विकेट गंवाए।