एक विकेट लेकर बना Man of the Match, सच हुआ इस गेंदबाज का सपना

नई दिल्ली(12 मई): आईपीएल के 9वें सीजन में कुछ युवा खिलाड़ी अपने प्रदर्शन का लोहा मनवा रहे हैं। इन्हीं में से एक हैं मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर कृणाल पांड्या। गुजरात के रहने वाले 25 साल के कृणाल पहली बार इस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं। 

बुधवार रात बैंगलोर के खिलाफ मैच में कृणाल ने किफायती गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में महज 15 रन दिए और एबी डीविलियर्स जैसे खिलाड़ी का अहम विकेट लिया। उनके इस प्रदर्शन के दम पर ही उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। 

उन्होंने पहली बार मैन ऑफ द मैच का खिताब जीता। यूं तो लक्ष्य का पीछा करते हुए अंबाती रायुडू ने 44 रन की पारी खेली, पोलार्ड ने 19 गेंदों पर नाबाद 35 रन बनाए, बटलर ने 11 गेंदों में 29 रन बनाए लेकिन विशेषज्ञों ने पांड्या को मैन ऑफ द मैच चुनना बेहतर समझा।

मैच के बाद क्या बोले पांड्या

मैच के बाद कृणाल पांड्या जब अपना पुरस्कार लेने आए तो भावनाओं को काबू में न रखते हुए वो सब कुछ बोल गए जो उनके दिल में था। आखिर ये पल इतना खास जो था। पांड्या ने कहा, 'मैं बस पेस में बदलाव लाने के प्रयास कर रहा था। विकेट धीमा था इसलिए मैं मिश्रण करने का प्रयोग कर रहा था। आमतौर पर बेंगलुरू का मैदान एक बड़े स्कोर वाला मैदान है लेकिन कुछ गेंदों के बाद मुझे अहसास हो गया था कि यहां पेस में मिश्रण करना सही रहेगा। जब मैं आइपीएल नहीं खेल रहा था तो मेरी ड्रीम टीम मुंबई इंडियंस थी और अब इस टीम का हिस्सा होना गर्व की बात है।'