#YogaDay2019: पीएम मोदी ने सूर्य नमस्‍कार पर शेयर किया वीडियो, जानें- फायदे

PM Modi- Surya Namaskarन्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 जून): 5वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से दो दिन पहले यानी 19 जून प्रधानमंत्री मोदी ने योगासन सीरिज का 15वां एनिमेटेड वीडियो शेयर किया है। पीएम मोदी ने बुधवार को वीडियो को एनिमेटेड ट्वीट कर सूर्य नमस्कार के बारे में लोगों को जानकारी दी। आपको बता दें कि PM मोदी 5 जून से लगातार एनिमेडेट वीडियो शेयर कर लोगों में योग के प्रति जागरूकता फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। इस सीरिज में पीएम मोदी रोज अलग-अलग योगासनों के बारे में विस्तार से बताते हैं। इस वीडियो में सूर्य नमस्‍कार के एक-एक स्‍टेप के बारे में बताया है। वीडियो में जैतूनी हरे रंग की ट्रैक पैंट और नारंगी टी-शर्ट पहने पीएम मोदी का एनिमेटेड वर्जन है। वीडियो ट्वीट करते हुए पीएम मोदी ने पूछा है- "क्‍या आपने सूर्य नमस्‍कार को अपनी दिनचर्या का हिस्‍सा बनाया है ?"क्या है सूर्य नमस्कार ?'सूर्य नमस्कार' का शाब्दिक अर्थ सूर्य को अर्पण या नमस्कार करना है। यह योग आसन शरीर को सही आकार देने और मन को शांत व स्वस्थ रखने का उत्तम तरीका है। सूर्य नमस्कार 12 योग आसनों का एक समन्वय है, जो एक उत्तम कार्डियो-वॅस्क्युलर व्यायाम भी है और स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। सूर्य नमस्कार मन वह शरीर दोनों को तंदुरुस्त रखता है। सूर्य नमस्कार के 12 आसन हैं- प्रणाम आसन, हस्तउत्तानासन, हस्तपाद आसन, अश्व संचालन आसन, दंडासन, अष्टांग नमस्कार, भुजंगासन, पर्वतासन, अश्वसंचालन आसन, हस्तपाद आसन, हस्तउत्थान आसन, ताड़ासन।

वीडियो में उन आठ आसनों के बारे में बताया गया है जो सूर्य नमस्‍कार का हिस्‍सा हैं। आमतौर पर इन आसनों को सूर्योदय और सूर्यास्‍त के समय किया जाता है। यह आसन न सिर्फ शाराीरिक तंदरुस्‍ती बल्‍कि आध्‍यात्मिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी अच्‍छा माना जाता है। योग में श्वसन (सांस ) पर नियंत्रण बेहद जरूरी है और पीएम मोदी के नए वीडियो में सूर्य नमस्‍कार करते हुए किस तरह सांस ली जाए इसके बारे में बताया गया है। सूर्य नमस्‍कार मेटाबॉलिज्‍म, वजन और ब्‍लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने के साथ ही शरीर की सफाई करने का काम भी करता है।

आपको बता दें कि YogaDay2019 पीएम मोदी के योगासन सीरिज का आज 16वां एनिमेटेड वीडियो जारी किया है। इस सीरिज में पीएम मोदी रोज अलग-अलग योगासनों के बारे में विस्तार से बताते हैं। इसे उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल @narendramodi से YogaDay2019 हैशटैग के साथ ट्वीट किया जा रहा है। गौरतलब है कि पीएम मोदी के योगासनों की यह सीरीज 5 जून से शुरू हुई थी। इसमें रोज एक आसन के करने का तरीका, उसके फायदे और सावधानियों के बारे में बताया जाता है। इस सीरीज में अब तक 15 आसनों के बारे में बताया जा चुका है। इससे पहले पीएम मोदी 'सूर्य नमस्‍कार', 'सेतु बंधासन',  'शलभासन',  'भुजंगासन', 'शशांकासन', 'पवनमुक्तासन, 'पवनमुक्तासन', बज्रासन, 'उष्ट्रासन', 'त्रिकोणासन', 'ताड़ासन', 'वृक्षासन', 'अर्ध चक्रासन', 'पादहस्तासन', 'भद्रासन' और  'वक्रासन' के फायदे बताए थे। इस सीरिज में पीएम मोदी रोज अलग-अलग योगासनों के बारे में विस्तार से बताते हैं। विश्व योग दिवस पर पिछले साल भी पीएम ने योगासन के कई वीडियो ट्वीट किए थे।

गौरतलब है कि ये पांचवां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कोशिशों के कारण ही 11 दिसंबर, 2014 को संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को विश्व योग दिवस मनाने का ऐलान किया था। भारत के प्रस्ताव पर 170 से अधिक देशों ने मंजूरी जताई थी, जो संयुक्त राष्ट्र में इतिहास था। हर साल की तरह इस साल भी प्रधानमंत्री 21 जून को सार्वजनिक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इस बार वह झारखंड की राजधानी रांची में आम लोगों के साथ योग करेंगे। इससे पहले वह राजधानी दिल्ली, उत्तराखंड के देहरादून, चंडीगढ़ और लखनऊ में योग दिवस पर हिस्सा ले चुके हैं। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री हर बार इस तरह के वीडियो ट्वीट करते हैं और योग के हर आसान की विस्तार से जानकारी देते हैं। हर किसी को पता है कि पीएम मोदी खुद सुबह योग करते हैं और फिट रहते हैं।