नामी क्रिकेटर तक सेक्स रैकेट सरगना की पहुंच

नई दिल्ली(22 जुलाई): दिल्ली के पॉश इलाके सफदरजंग एनक्लेव में पकड़े गए इंटरनैशनल सेक्स रैकेट के मामले में पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है कि विदेशी लड़कियों का इस्तेमाल कहीं देश के रक्षा प्रतिष्ठानों और सुरक्षा से जुड़ी जानकारियां जुटाने के लिए तो नहीं किया जा रहा था।

इस मामले में गिरफ्तार प्रीतेंदर नाथ सान्याल (63) और उसके कथित साथी रिटायर्ड कर्नल अजय अहलावत के संपर्क कई बड़े नेताओं, ब्यूरोक्रेट्स और आर्मी अफसरों से बताए जा रहे हैं। इस केस में रूसी लड़की ने पुलिस को बताया है कि यह दोनों सेंट्रल एशियाई मुल्कों से लड़कियों को दिल्ली लाकर पावरफुल लोगों के पास भेजते थे। 

पुलिस ने बताया कि कर्नल अहलावत के फार्महाउस पर मशहूर भारतीय क्रिकेटर के जन्मदिन की पार्टी भी हुई थी। हालांकि क्रिकेटर के नाम का खुलासा नहीं किया गया है। इस रैकेट में कर्नल अहलावत के अलावा बाकी कई आर्मी अफसरों के बारे में भी पुलिस को जानकारी मिली है। पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है कि विदेशी लड़कियों का इस्तेमाल देश के रक्षा प्रतिष्ठानों और सुरक्षा से जुड़ी जानकारियां जुटाने के लिए तो नहीं किया जा रहा था। सान्याल के सम्पर्क इनकम टैक्स के कई बड़े अफसरों से भी बताए जा रहे हैं, लेकिन वह सान्याल को रेड से नहीं बचा पाए। 

पीएन सान्याल का परिवार मूल रूप से वेस्ट बंगाल का निवासी है, लेकिन वह लखनऊ में रहते थे। 25 साल पहले वह दिल्ली आ गए थे। उनकी पत्नी लखनऊ के गोमती नगर में रहती हैं, बेटा हॉन्गकॉन्ग में और बेटी अमेरिका में रहती हैं। सान्याल ने इनकम टैक्स अफसरों और पुलिस के सामने खुद को टेक्नीकल कन्सलटेंट बताया है, लेकिन वह यह नहीं बता पाए कि वह किस तरह की तकनीक में कैसी कन्सलटेंसी करते थे।

पुलिस ने बताया कि रात तक कर्नल अहलावत को गिरफ्तार नहीं किया गया था, लेकिन उनकी गिरफ्तारी की संभावना से इनकार नहीं किया गया। डीसीपी साउथ ईश्वर सिंह ने कहा कि यह बहुत बड़ा रैकेट है। पुलिस को शक है कि यह मामला सेक्स रैकेट तक ही सीमित नहीं है। इसमें कई अन्य पहलू भी हो सकते हैं। डिटेल तहकीकात के लिए स्पेशल टीम बनाई गई है।