पाकिस्तान की 'इंटरनेशनल बेइज्जती', कुलभूषण की फांसी पर लगी रोक

नई दिल्ली(10 मई): कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय अदालत से बड़ा झटका लगा है। हेग स्थित इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) ने कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा पर रोक लगा दी है।


- अंतरराष्ट्रीय अदालत ने पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ को पत्र लिखकर भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगाने के लिए कहा है।


- भारतीय नौसेना के रिटायर्ड अधिकारी कुलभूषण जाधव को कथित जासूसी करने के आरोप में पिछले महीने पाकिस्तानी सैन्य अदालत ने फांसी की सजा सुनाई थी।


- भारत ने पाकिस्तानी सैन्य अदालत के इस फैसले के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय अदालत में 8 मई को अपील की थी। भारत ने अंतरराष्ट्रीय अदालत में कहा कि कुलभूषण जाधव को अपना पक्ष रखने का मौका नहीं दिया गया और ना ही उन्हें भारत के उच्चायोग अधिकारियों से मिलने की इजाजत दी गई। जाधव की मां अवन्ति जाधव ने पिछले महीने पाकिस्तान की सर्वोच्च अदालत में जाधव की फांसी के खिलाफ याचिका दायर की थी।


- अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया कि उन्होंने जाधव की मां से बात कर उन्हें इस फैसले के बारे में बताया है। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय अदालत में जाधव मामले की पैरवी वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे कर रहे हैं।


- भारत ने अपनी अपील में यह भी कहा था कि जाधव की गिरफ्तारी के काफी समय बाद तक पाक ने कोई सूचना नहीं दी। भारत ने पाक की निंदा करते हुए कहा कि वह आरोपी के मानवाधिकारों की रक्षा करने में असफल रहा।


- भारतीय उच्चायोग ने जाधव की गिरफ्तारी के बाद कई बार जाधव से मिलने की इजाजत मांगी थी लेकिन पाकिस्तान ने भारत के सभी अनुरोधों को अस्वीकार करते हुए इजाजत नहीं दी।